प्रशिक्षण:संभाग से 94 लोग जाएंगे हज, किट दिया गया

बिलासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जो लोग हज पर जा रहे हैं, वे वहां पहुंचकर छत्तीसगढ़ राज्य सहित अपने देश में अमन-चैन और तरक्की के लिए दुआ करें। आप सभी हज पर जाएं और वहां से सही सलामत लौटकर आएं यही हम सबकी की दुआ है। यह बात छत्तीसगढ़ राज्य पर्यटन मंडल के अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने कही।

वे छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी की ओर से बुधवार को बिलासपुर के स्व. लखीराम अग्रवाल ऑडिटोरियम में हज जाने वाले यात्रियों के लिए आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में हज यात्रियों को संबोधित कर रहे थे। राज्य हज कमेटी के अध्यक्ष असलम खान ने सभी जायरीनों को हज यात्रा की मुबारकबाद पेश की।

इस दौरान रायपुर से आए प्रशिक्षक रिफात अली, मोहम्मद सुल्तान अहमद, हाजी अब्दुल रज्जाक व हुसैनी मस्जिद के पेश इमाम सैय्यद जाहिद आगा ने मौजूद यात्रियों को हज यात्रा के दौरान कैसे अराकान पूरे किए जाने हैं, हज यात्रा के दौरान किन-किन बातों का ख्याल रखा जाना है, क्या सामान लेकर जाना है, वहां से क्या लेकर आना है। विस्तार से जानकारी दी। जायरीनों को महापौर रामशरण यादव ने हज किट का वितरण किया। इस मौके पर पार्षद शहजादी कुरैशी, पार्षद असलम खान, अकबर बक्शी, इकबाल हक, खादिम उस्मान खान, खालिद खान, राशिद, इस्माइल भाई, मेराज, आदम मेमन, हबीब मेमन, शेख निजामुद्दीन आिद मौजूद रहे।

बिना लाटरी के सभी का चयन
हज कमेटी के अध्यक्ष असलम खान ने बताया कि इस बार छत्तीसगढ़ से 431 हाजियों का चयन किया गया है। उन्होंने बताया कि इस बार जितने आवेदन आए थे वे सभी बिना कुर्राह (लाटरी) के चयन कर लिए गए हैं। बिलासपुर संभाग से 94 लोगों को हज जाने का अवसर मिला है।

फ्री में अहराम देंगे
इस बार राज्य सरकार हज यात्रा में जाने वाले यात्रियों को फ्री में अहराम प्रदान करेगी। जो हाजियों का किट होता है वह भी उन्हें प्रदान किया जा रहा है। सेंट्रल हज कमेटी से भी हाजियों को बैग प्रदान किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...