पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राहत भरी खबर:कोरोना काल में गर्भपात कम, बिलासपुर में पिछले साल से 359 केस घटे

बिलासपुर । राजू शर्मा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अप्रैल से 14 दिसंबर तक जिले में 68 और प्रदेश में 2072 एमटीपी के मामले, जबकि पिछले वर्ष बिलासपुर में आंकड़ा 427 था

कोरोनाकाल में बिलासपुर सहित पूरे छत्तीसगढ़ में गर्भपात (एमटीपी) के केस घटे हैं। पिछले वर्ष के मुकाबले इस साल जिले में 84.08 %(359) और प्रदेश में 49.88 प्रतिशत यानी (2062) गर्भपात कम हुए। अप्रैल से 14 दिसंबर 2020 तक 9 माह में बिलासपुर के सरकारी और निजी अस्पतालों में 68 गर्भपात हुए। छत्तीसगढ़ के 27 जिलों के सभी जिला अस्पतालों और निजी अस्पतालों में मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेग्नेंसी (एमटीपी) के 2072 मामले सामने आए हैं। जबकि पिछले वर्ष अप्रैल से दिसंबर 2019 तक छत्तीसगढ़ में 4134 महिलाओं ने गर्भपात कराए थे। बिलासपुर में यह आंकड़ा 427 था। सीएस हैल्थ की वेबसाइट के आंकड़े बता रहे हैं सबसे ज्यादा गर्भपात निजी अस्पतालों में हो रहे हैं। कोरोना-काल के 9 महीनों में प्रदेश के सभी निजी अस्पतालों में 1553 गर्भपात कराए गए। जबकि जिला अस्पतालों में सिर्फ 519 मामले हैं। 2019 में निजी अस्पतालों में गर्भपात की संख्या 2847 और जिला अस्पतालों में 1287 एमटीपी के केस सामने आए थे।

इन वजह से गर्भपात कराए जा सकते हैं

  • यदि गर्भावस्था के कारण महिला की जान को खतरा हो।
  • यदि महिला को कोई शारीरिक या मानसिक हानि हो सकती है। उदाहरण के लिए यदि पहले से ही परिवार में तीन-चार बच्चे हों और वह खर्च नहीं उठा सकती हो।
  • बच्चे को कोई विकृति होने की संभावना हो तो।
  • बलात्कार केस में पीड़िता को कानूनी रूप से गर्भपात का अधिकार है।
  • गर्भ निरोधक की असफलता-चाहे जिस भी माध्यम का उपयोग किया गया हो।
  • अधिकांश गर्भपात कॉन्ट्रासेप्टिव फेलियर और मां की आर्थिक और शरीरिक स्थित कमजोर होने पर किए जाते हैं।
  • 20 हफ्ते के भीतर महिला गर्भपात करा सकती है। इसके बाद गर्भपात कराना कानूनन अपराध माना जाता है।

कोरोना के डर से घटी गर्भपात की संख्या : सीएमएचओ डॉ. प्रमोद महाजन का कहना है कि कोरोना काल में इंफेक्शन होने के डर से लोग अस्पताल नहीं गए इसलिए इस साल गर्भपात के आंकड़े कम हुए हैं। इसके अलावा कोरोना के शुरुआती दौर में अधिकांश निजी अस्पतालों में ऑपरेशन नहीं हो रहे थे, ये भी एक कारण है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें