बस ने भेड़-बकरियों के झुंड को कुचला, फिर हुआ हंगामा:सड़क पार करते वक्त हादसा, 10 मवेशियों की मौत; गुस्साए लोगों ने किया चक्काजाम

बिलासपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गुस्साए लोगों ने शनिवार को चक्काजाम कर दिया। - Dainik Bhaskar
गुस्साए लोगों ने शनिवार को चक्काजाम कर दिया।

बिलासपुर जिले में तेज रफ्तार बस ने शुक्रवार शाम भेड़-बकरियों के झुंड को टक्कर मार दी। बस से कुचलकर 10 भेड़-बकरियों की मौत हो गई। भेड़-बकरियां नेशनल हाईवे पार कर रहीं थीं, उसी समय अनियंत्रित बस ने उन्हें टक्कर मारी। हादसे के बाद आरोपी चालक बस लेकर फरार हो गया। घटना कोनी थाना क्षेत्र की है। घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने बिलासपुर रतनपुर मुख्य मार्ग पर शनिवार को चक्काजाम कर दिया।

जानकारी के अनुसार, कोनी क्षेत्र के सेंदरी निवासी शानू उर्फ अक्षय पाल (17) बकरी पालन करता है। वो अपनी और गांव के किसान की 100 भेड़-बकरियों को रोज की तरह चराने के लिए बंधवा तालाब की ओर गया था। शाम में वो जब भेड़-बकरियों को चराकर वापस लौट रहा था, तभी सेंदरी-कछार मोड़ पर रतनपुर की ओर से आ रही बस ने उन्हें टक्कर मार दी। ये सभी मवेशी पेट्रोल पंप के पास नेशनल हाईवे को पार कर रहे थे। बस की चपेट में आकर 10 भेड़-बकरियों की मौके पर ही मौत हो गई।

सड़क पर बिखरी पड़ी बकरियों की लाशें।
सड़क पर बिखरी पड़ी बकरियों की लाशें।

चिल्लाता रह गया चरवाहा और भाग निकला चालक
इस घटना के बाद बकरियों को देखकर चरवाहा अक्षय पाल शोर मचाने लगा। इधर हादसे के बाद बस रोकने के बजाए आरोपी चालक तेजी से बिलासपुर की तरफ भाग निकला। शनिवार को गुस्साए लोगों ने चक्काजाम कर दिया था। पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और काफी समझाया। तब जाकर लोग शांत हुए हैं।

थाने पहुंचकर दी जानकारी, केस दर्ज
इस घटना के बाद वहां आसपास लोगों की भीड़ जुट गई। बकरियों की मौत के बाद चरवाहा रोने लगा। आसपास के लोगों ने इसकी सूचना उसके परिजनों को दी। इसके बाद चरवाहा अक्षय पाल गांव के दिनेश कुमार भेड़पाल के साथ कोनी थाने पहुंचा और हादसे की जानकारी दी। उसकी रिपोर्ट पर पुलिस ने बस चालक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।