परेशानी / एडीबी की लोरमी-रतनपुर सड़क एक साल बाद भी पूरी नहीं, जर्जर सड़क पर चलना मजबूरी

ADB's Lorami-Ratanpur road is not complete even after one year, compulsion to walk on shabby road
X
ADB's Lorami-Ratanpur road is not complete even after one year, compulsion to walk on shabby road

  • जून 2019 में पूरी हो जानी थी सड़क, गिट्‌टी से आए दिन हो रहीं दुर्घटनाएं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

बिलासपुर. एडीबी की लोरमी से रतनपुर तक बन रही सड़क तय समय बीतने के 1 साल बाद भी पूरी नहीं हो पाई है। इस वजह से लोग जर्जर सड़क पर चलने को मजबूर हैं। अफसर सड़क पूरी नहीं होने के पीछे पीएचई लाइन शिफ्टिंग नहीं होने का बहाना बना रहा है। लोरमी से रतनपुर तक बन रही एडीबी की 52 किलोमीटर सड़क का काम 18 जून वर्ष 2019 को पूरा हो जाना था लेकिन अब तक यह पूरी नहीं हो पाई है। वर्तमान में लोरमी से कोटा नाका चौक तक का हिस्सा बन चुका है और रतनपुर मार्ग का अधिकांश हिस्सा भी बन गया है लेकिन मुआवजा मामलों की वजह से कुछ मार्ग अधूरा है। वहीं कोटा रेलवे स्टेशन से रेलवे क्रॉसिंग तक 594 मीटर की सड़क रेलवे से सहमति नहीं होने पर एडीबी पहले ही इसे बनाने से इनकार कर चुका है। ऐसे में वर्तमान में लोग अधूरी सड़क पर चलने को मजबूर हैं। गिट्टी वाली सड़क पर आए दिन दुर्घटना हो रही है। 
पाइपलाइन शिफ्टिंग पर अफसरों के बयान अलग
एडीबी के एसडीओ मुनेश्वर कौशिक का कहना है कि पिछले डेढ़ माह से लॉकडाउन की वजह से काम बंद रहा। काम पूरा नहीं होने के पीछे बड़ी वजह पीएचई पाइपलाइन शिफ्ट नहीं होना है जिसका एक बार टेंडर निरस्त हो चुका है और दूसरा टेंडर अभी हुआ नहीं है। इधर, पीएचई के ईई एमआर मिश्रा ने कहा कि 4 साल पहले एडीबी की ओर से राशि दी गई थी लेकिन पीवीसी पाइप की दर से राशि होने की वजह से टेंडर निरस्त कर दिया गया था। इसके बाद जीआई पाइप की दर से राशि दिए जाने के बाद प्रस्ताव पास करने के लिए भेजा गया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना