फर्जी एनकाउंटर का आरोप लगाते हुए HC में याचिका:2017 के बीजापुर एनकाउंटर को मृतक की पत्नी ने बताया फर्जी, कहा पुलिस ने नक्सली बता कर मेरे पति को मारा, SIT जांच की उठाई मांग

बिलासपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
2017 के मुक्काबली एनकाउंटर को फेक बताते हुए हाईकोर्ट में दायर हुई है याचिका - Dainik Bhaskar
2017 के मुक्काबली एनकाउंटर को फेक बताते हुए हाईकोर्ट में दायर हुई है याचिका

2017 में हुए बीजापुर एनकाउंटर मामले में मृतक की पत्नी कुम्मा लक्ष्मी की याचिका पर सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता को 2 सप्ताह में लिखित जवाब ( रिज्वाइंडर) देने कहा है। अपनी याचिका में वंजा की पत्नी ने पुलिस पर फर्जी एनकाउंटर का आरोप लगाते हुए SIT जांच की मांग उठाई है।

दूसरे ग्रामीणों के साथ बैठे थे, तभी जंगल में ले जाकर मेरे पति का किया गया एनकाउंटर

2017 में बीजापुर के ग्राम मुक्काबेली में 31 वर्षीय वंजा का जंगल के अन्दर एनकाउंटर हुआ था। पति के फ़र्जी एनकाउंटर किये जाने का आरोप लगाते हुए मृतक की पत्नी और याचिकाकर्ता पत्नी कुम्मा लक्ष्मी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। कहा हैं कि उसका पति ग्रामीण पहनावा के साथ गांव में ही अन्य ग्रामीणों के साथ मौजूद था। तभी अचानक पुलिस आई और वंजा को उठाकर जंगल के अंदर ले गई। वहां से गोली चलने की आवाज आई तब सभी ग्रामीण और पत्नी कुम्मा जंगल गए, जहां वंजा मृत मिला। आगे याचिका में कहा गया कि मामले में उस समय पुलिस के द्वारा बताया गया कि वंजा एक नक्सली है इसलिए उसे मार गिराया गया। जबकि ग्रामीणों और वंजा कि पत्नी का कहना है कि वंजा का फर्जी एनकाउंटर कर दिया गया है। कुम्मा लक्ष्मी ने दोषियों के खिलाफ एफआईआर और SIT जांच की मांग को लेकर हाईकोर्ट में याचिका लगाई है। मामले में 2 सप्ताह बाद फिर सुनवाई होगी।