बिलासपुर में सड़क पर उतरे भाजपाई:बोले- शहर के विकास कार्य ठप, सिर्फ कमीशनखोरी चल रही; नगर निगम का किया घेराव

बिलासपुर2 महीने पहले
भाजपाइयों ने नगर निगम के ढाई साल के कार्यकाल पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप - Dainik Bhaskar
भाजपाइयों ने नगर निगम के ढाई साल के कार्यकाल पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

बिलासपुर में भाजपा नेता व पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने राज्य शासन और निगम प्रशासन पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि शहर के सारे विकास कार्य ठप है। निगम के अफसर व नेता सिर्फ कमीशनखोरी में व्यस्त है। स्मार्ट सिटी के पैसों का बंदरबाट किया जा रहा है और नगर निगम भू-माफियाओं के इशारे पर काम कर रही है। जन सुविधा के लिए शुरू की गई सिटी बसों का संचालन भी बंद कर दिया गया है।

नगर निगम प्रशासन के खिलाफ भाजपाइयों ने किया प्रदर्शन
नगर निगम प्रशासन के खिलाफ भाजपाइयों ने किया प्रदर्शन

बुधवार को नगर निगम और राज्य सरकार के खिलाफ़ भाजपा ने मोर्चा खोल दिया। पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल के नेतृत्व में भाजपाइयों ने नेहरू चौक में प्रदर्शन कर निगम कार्यालय का घेराव कर दिया। भाजपा नेताओं ने आरोप लगाया कि शहर में ठप्प पड़े विकास कार्यों को लेकर उन्हें आंदोलन करना पड़ रहा है। इस दौरान भाजपाइयों ने जमकर नारेबाजी करते हुए हंगामा मचाया। भाजपा पदाधिकारियों ने कहा कि कांग्रेस की सरकार आने के बाद से शहर का विकास कम कमीशनखोरी ज्यादा हो रहा है। भाजपा सरकार के कार्यकाल में किए गए योजनाओं पर सरकार विकास का ढिंढोरा पीट रही है।

भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं ने निगम प्रशासन के खिलाफ की जमकर नारेबाजी
भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं ने निगम प्रशासन के खिलाफ की जमकर नारेबाजी

अमर की चुनौती-बोले सीवरेज परियोजना की जांच करा लें
अमर अग्रवाल ने महापौर रामशरण यादव, सभापति शेख नजीरुद्दीन के कक्ष में नगर निगम आयुक्त से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग हमेशा आरोप लगाते हैं कि सीवरेज में भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने कहा कि मैं चुनौती देता हूं कि अनियमितता हुई है तो सरकार उसकी जांच करा ले। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार है तो सीवरेज परियोजना की जांच कराए और भ्रष्टाचार हुआ है तो दोषियों पर कार्रवाई करे। उन्होंने यह भी कहा कि सीवरेज के दस किलोमीटर का काम बचा हुआ है, जिसे जानबुझकर नहीं कराया जा रहा है। इसके चलते शहर की जनता को परेशानी हो रही है।

वार्डों की समस्याओं को लेकर निगम प्रशासन पर लगाए उदासीनता के आरोप
वार्डों की समस्याओं को लेकर निगम प्रशासन पर लगाए उदासीनता के आरोप

कमीशनखोरी के लिए ला रहे नया काम
अमर अग्रवाल ने कहा कि नगर निगम में पुराने विकास कार्यों को बंद कर दिया गया है और नए कार्य कराने की बात कही जा रही है। नए काम इसलिए कराए जा रहे हैं, ताकि उसमें कमीशनखोरी की जा सके। उन्होंने कहा कि नाली, तालाब, उद्यान की स्थिति खराब है। गरीबों को आवास नहीं मिल रहा है, साफ सफाई की व्यवस्था चौपट है। स्मार्ट सिटी के पैसों से सिर्फ रंग रोगन का काम कर मद का दुरुपयोग किया जा रहा है। शहर की जमीन पर तेजी से अवैध कब्जा हो रहा है। कौन कब्जा कर रहा है ये सभी को पता है, बावजूद निगम भू माफियाओं पर कार्रवाई ना कर उन्हे संरक्षण देने में लगी है।

राज्य सरकार नहीं दे रही है पैसा
पूर्व मंत्री ने सरकार पर निगम को विकास कार्य के लिए पैसा नही देने का भी आरोप लगाया। उन्होने सवाल उठाया कि आखिर शहर के विकास का पैसा कहां जा रहा है। पूर्व मंत्री ने कहा कि जब मैं नगरीय प्रशासन मंत्री था, तब शहर विकास के लिए करोड़ों रुपए मिलते थे। लेकिन, आज निगम को पैसों के लिए मोहताज होना पड़ रहा है।

खबरें और भी हैं...