वायरल वीडियो पर विधायक बांधी की माफी:सतनामी समाज के खिलाफ कर दी थी टिप्पणी, अब बोले- मेरे बयान को गलत तरीके से पेश किया गया

बिलासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मस्तूरी विधानसभा क्षेत्र के विधायक व उपनेता प्रतिपक्ष डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी - Dainik Bhaskar
मस्तूरी विधानसभा क्षेत्र के विधायक व उपनेता प्रतिपक्ष डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी

बिलासपुर में BJP के विधायक डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी ने अपने वीडियो वायरल होने के बाद सतनामी समाज से माफी मांग ली है। दरअसल, सोशल मीडिया में वीडियो वायरल होने के बाद बवाल मच गया था। कांग्रेस के साथ ही समाज के लोगों ने उनका पुतला दहन कर विरोध-प्रदर्शन किया था। इस्तीफे की मांग के बाद डॉ. बांधी का भी बयान आया है, जिसमें उन्होंने कहा है कि उनके 20 मिनट के भाषण को तोड़ मरोड़कर पेश किया गया है। इस पर उन्होंने खेद भी जताया है। बताया जा रहा है कि सांसद अरूण साव, मस्तूरी विधायक डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी बीते 22 नवंबर को पचपेड़ी में CC रोड भूमिपूजन सहित लोकार्पण कार्यक्रम में पहुंचे थे। यहां सभा का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में विधायक डॉ. बांधी अपने भाषण में सतनामी समाज को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी कर रहे हैं। यह वीडियो कांग्रेसियों के पास पहुंच गया। जिस पर कांग्रेस ने ट्वीट कर विधायक डॉ. बांधी व प्रदेश के उपनेता प्रतिपक्ष के भाषण पर सवाल उठाए। यह वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। इस पर कांग्रेस के साथ ही समाज के लोगों ने आपत्ति जताई है। मंगलवार की शाम समाज के पदाधिकारियों ने विधायक डॉ. बांधी का पुतला दहन कर उन्हें अपने पद से इस्तीफा देने की मांग की है। बाद में विधायक बांधी ने वायरल वीडियो पर अपना पक्ष रखते हुए खेद जताया है।

विरोध प्रदर्शन और पुतला दहन के दौरान पूर्व विधायक दिलीप लहरिया व समाजा के लोग
विरोध प्रदर्शन और पुतला दहन के दौरान पूर्व विधायक दिलीप लहरिया व समाजा के लोग

पूर्व विधायक बोले भाजपा की घटिया सोच को डॉ. बांधी ने किया सिद्ध
समाज पर की गई अभद्र टिप्पणी को लेकर अब राजनीतिक रंग देने की कोशिश शुरू हो गई है। कांग्रेस के नेता व मस्तूरी के पूर्व विधायक दिलीप लहरिया ने कहा कि भाजपा की घटिया सोच को विधायक बांधी ने सिद्ध कर दिया है। उनका बयान आपत्तिजनक और दुर्भाग्यपूर्ण है। उनके इस बयान के विरोध में जोंधरा चौक मस्तूरी में पुतला दहन किया गया। पुतला दहन में राजकुमार अंचल, लखन टंडन, देवेंद्र कृष्णन, बादल खुंटे, अरविंद लहरिया,अशोक राजवाल, एनल घृतलहरे, रितुराज भार्गव, रघुराज भारती, प्रशांत बंजारे, मनीष कांत सहित समाज के लोग उपस्थित रहे।
विधायक बांधी बोले- तोड़ मरोड़ कर वायरल किया गया है वीडियो
विधायक डॉ. बांधी ने अपने वायरल वीडियो पर सफाई देते हुए कहा कि उन्हें बदनाम करने के लिए 20 मिनट के वीडियो को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। विकास के काम में लगे लोगों को प्रोत्साहित करने के बजाए कलंकित करने वालों को लेकर उन्होंने टिप्पणी की थी। उन्होंने अपने वायरल वीडियो को लेकर खेद जताते हुए कहा कि समाज विशेष से मिलकर क्षेत्र के विकास के लिए काम करना उनकी प्राथमिकता है।

22 नवंबर को हुआ था आयोजन, कांग्रेस ने बयान को बनाया मुद्दा
22 नवंबर को आयोजित इस कार्यक्रम में पूर्व मंत्री डॉ. बांधी यह कहते हुए दिख रहे हैं कि " जबान ला अपन गंदा मत करो .. कोई ला गंदा गाली देकर। एमा अइसे हे सतनामी समाज आशीर्वाद देहे ल कम जानथे। दईया मइया धरे ल ज्यादा जानथे। ए कहथे कि रोड ह भ्रष्टाचार के भेंट चढ़ गे हे, बांधी हर ओमा कमीशन खाय हे। तेखरे कारण नई बनाए हवय, तुंहर से मांग के करेंव रहें का... उनके इस वीडियो को कांग्रेस ने ट्वीट किया और सवाल किया कि यह कैसी भाषा बोल रहे हैं विधायक और उप नेता प्रतिपक्ष डॉ कृष्ण मूर्ति बांधी।

खबरें और भी हैं...