BJP युवा मोर्चा का अनोखा प्रदर्शन:छेरछेरा पर्व पर सरकार से मांगा बेरोजगारी भत्ता, पदाधिकारी बोले छत्तीसगढ़िया सरकार बेरोजगारों को दे रोजगार और पूरा करने अपना वादा

बिलासपुर5 महीने पहले
लोक पर्व पर भाजपा युवा मोर्चा ने छेरछेरा के रूप में मांगा बेरोजगारी भत्ता। - Dainik Bhaskar
लोक पर्व पर भाजपा युवा मोर्चा ने छेरछेरा के रूप में मांगा बेरोजगारी भत्ता।

बिलासपुर में सोमवार को भाजपा युवा मोर्चा ने छेरछेरा पर्व पर प्रदेश के बेरोजगारों के लिए भत्ता मांगा। कार्यकर्ताओं ने अग्रसेन चौक में धरना-प्रदर्शन कर जमकर नारेबाजी की। पदाधिकारियों ने कहा कि प्रदेश की भूपेश बघेल की सरकार छत्तीसगढ़िया सरकार होने का दावा करती है। लेकिन, राज्य के बेरोजगार युवाओं को भत्ता नहीं दे रही है। छेरछेरा के रूप में सरकार बेरोजगारी भत्ता ही दे दे।

इस दौरान कार्यकर्ताओं ने राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और राज्य सरकार को झूठा बताया। पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार पर राज्य के बेरोजगारों से छलावा करने के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि बेरोजगार युवाओं को वोट हासिल करने के लिए बेरोजगारी भत्ता देने का लालच दिया गया। लेकिन, सरकार बनने के बाद सरकार बेरोजगार युवाओं को भूल गई है।

चुनावी घोषणा पत्र में 2500 रुपए देने का था वादा
युवा मोर्चा के पदाधिकारियों ने कहा कि कांग्रेस ने चुनावी घोषणापत्र में वादा किया था कि प्रति माह 2500 रुपए बेरोजगारी भत्ता देगी। इसी तरह राज्य के 10 लाख बेरोजगारों को सरकारी नौकरी देने की बात कही थी। लेकिन, सरकार बनने के तीन साल बाद प्रदेश के बेरोजगार युवा बेरोजगारी भत्ता मिलने की राह देख रहे हैं। उन्होंने सरकार से सवाल किया कि अब तक किस बेरोजगार को बेरोजगारी भत्ता मिला और किसे रोजगार मिला इसका कुछ पता नहीं है। ऐसे में सरकार को आज छेरछेरा पर अपना वादा पूरा करते हुए युवाओं को बेरोजगारी भत्ता और रोजगार देना चाहिए।

सभी मोर्चे पर विफल रही है कांग्रेस सरकार
भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष निखिल केशरवानी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार के मुख्यमंत्री व मंत्री सभी मोर्चे पर विफल रही है। जिस तरह से सरकार ने 2018 के चुनाव में झूठे वादे कर युवाओं से धोखा दिया है। उसी तरह आने वाले 2023 के चुनाव में युवा सरकार के मुख्यमंत्री, मंत्री व विधायकों को सबक सिखाएंगे।

खबरें और भी हैं...