पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निचली अदालत का आदेश निरस्त:​​​​​​​बिलासपुर हाईकोर्ट ने कहा- लॉकडाउन के दिनों की गिनती अपील के मामले में न करें, तब कोर्ट भी बंद था

बिलासपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने अपने महत्वपूर्ण फैसले में निचली अदालत के एक आदेश को खारिज करते हुए कहा है कि लॉकडाउन अवधि की गणना अपील मामलों में न की जाए। - Dainik Bhaskar
छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने अपने महत्वपूर्ण फैसले में निचली अदालत के एक आदेश को खारिज करते हुए कहा है कि लॉकडाउन अवधि की गणना अपील मामलों में न की जाए।
  • दुष्कर्म के मामले में बंद राजनांदगांव के किशोर ने लगाई थी जमानत याचिका
  • निचली अदालत ने अपील अवधि पूरी होने पर जमानत देने से कर दिया था इनकार

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने अपील मामले में निचली अदालत के एक आदेश को खारिज कर दिया है। हाईकोर्ट ने कहा है, लॉकडाउन के दौरान कोर्ट बंद होने की तिथियों की गिनती अपील के मामलों में नहीं की जाए। तब कोर्ट में भी कामकाज बंद था। कोर्ट ने याचिकाकर्ता के प्रकरण को एक माह में निराकरण करने कहा है। निचली अदालत ने दुष्कर्म के एक मामले में अपील की अवधि पूरी होने पर जमानत देने से इनकार कर दिया था।

क्या है मामला

राजनांदगांव का एक किशोर दुष्कर्म के मामले में जेल में बंद है। उसकी जमानत अर्जी को जुवेनाइल कोर्ट ने खारिज कर दिया। तब उसने ADJ कोर्ट में जमानत अपील की, लेकिन वहां से भी अपील खारिज कर दी गई। कोर्ट ने तर्क दिया कि किशोर की ओर से अपील करने की निर्धारित अवधि पूरी हो चुकी थी। इस पर याचिकाकर्ता की ओर से हाईकोर्ट में दांडिक पुनरीक्षण अपील प्रस्तुत की गई। इसमें निचली अदालत के आदेश को चुनौती दी गई।

याचिका में कहा- निचली अदालत ने गुणदोष के आधार पर निराकरण नहीं किया
याचिका में कहा गया कि कोरोना महामारी के चलते देशभर में लाकडाउन था। इसके चलते कोर्ट में भी कामकाज बंद था। इस परिस्थिति में याचिकाकर्ता की अपील अवधि की गणना करना उचित नहीं है। निचली अदालत को गुण दोष के आधार पर निराकरण करना था, लेकिन अपील अवधि खत्म होने के कारण याचिका खारिज करना अवैधानिक है। मामले की सुनवाई जस्टिस RCS सामंत की बेंच में हुई।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

और पढ़ें