पेट्रोल-डीजल के दामों पर BJP का प्रदर्शन:MP, झारखंड, ओडिशा को जोड़ने वाले हाईवे किए जाम; कहा- रियासत और सियासत के खेल में जनता फंसी

कवर्धा/बिलासपुर/जांजगीर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पेट्रोल-डीजल पर वैट कम करने की मांग को लेकर छत्तीसगढ़ BJP ने हल्ला बोल दिया है। पूरे प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर प्रदर्शन जारी है। कार्यकर्ताओं ने छत्तीसगढ़ से मध्य प्रदेश, ओडिशा और झारखंड को जोड़ने वाले हाईवे पर जाम लगा दिया है। जांजगीर में जहां BTI चौक पर NH- 49 बंद कर रखा है, वहीं कवर्धा में जबलपुर रूट बंद है। बिलासपुर में नेहरू चौक पर रास्ता ब्लॉक किया गया है। मांगे पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

बिलासपुर के नेहरू चौक पर प्रदर्शन करते भाजपा कार्यकर्ता।
बिलासपुर के नेहरू चौक पर प्रदर्शन करते भाजपा कार्यकर्ता।

भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार बताया है। कहा है कि अगर राज्य उस पर वैट कम कर दे तो दाम अपने आप कम हो जाएंगे। नेताओं ने सीमेंट के भी दाम कम करने की मांग रखी है। बिलासपुर में नेहरू चौक का रास्ता ब्लॉक कर दिया गया है। इस दौरान सांसद सहित भाजपा के पदाधिकारियों ने राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कहा कि राज्य तानाशाही रवैया छोड़े।

कवर्धा में रायपुर रोड पर जाम लगाकर बैठे भाजपा कार्यकर्ता।
कवर्धा में रायपुर रोड पर जाम लगाकर बैठे भाजपा कार्यकर्ता।

कवर्धा में तीन जगह जाम, रायपुर, राजनांदगांव रूट भी बंद
कवर्धा में भाजपा कार्यकर्ता तीन जगह रास्ता रोक कर प्रदर्शन कर रहे हैं। दो जगह शहर में और एक ग्रामीण इलाके में बंद है। रायपुर रोड पर जाम लगाने से कवर्धा-रायपुर रूट बंद हो गया है। वहीं लोहारा रोड पर जाम ने राजनांदगांव रूट को बाधित किया है। शहर के बाद भाजपा ने ग्राम जोराताल में भी रास्ता जाम कर रखा है। इसके कारण कवर्धा-जबलपुर हाइवे बंद है। इसके चलते वाहनों और ट्रकों की लाइन लग गई है। नेता इसे 2 घंटे का बंद बता रहे हैं।

कवर्धा के जोराताल में हाईवे पर लगाया जाम।
कवर्धा के जोराताल में हाईवे पर लगाया जाम।

जांजगीर में नेता बोले- जनता ठगा महसूस कर रही
दूसरी ओर जांजगीर के बीटीआई चौक पर भाजपा का प्रदर्शन जारी है। प्रदेश महामंत्री और चंपा विधायक नारायण चंदेल ने कहा प्रदेश की जनता रियासत और सियासत के खेल में फंस गई है। खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है ढाई-ढाई साल के बंटवारे की की लड़ाई अब कमरे से निकलकर सड़कों पर नजर आ गई है। प्रदेश में अराजकता और अव्यवस्था का माहौल बना हुआ है। कांग्रेस सरकार पेट्रोल-डीजल से वैट कम नहीं करती है और सीमेंट के दामों को नहीं बढ़ाती है तो यह आंदोलन उग्र रूप लेगा

खबरें और भी हैं...