मलबे में दबकर मैकेनिक की मौत:बिलासपुर में पड़ोसी के मकान का बारजा गिरने से दबा, गैराज जाने के लिए घर से निकला था युवक, तेज बारिश के चलते हादसा

बिलासपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जितेंद्र की मौत से पूरा परिवार सदमे में है। वह घर का अकेले कमाने वाला था। - Dainik Bhaskar
जितेंद्र की मौत से पूरा परिवार सदमे में है। वह घर का अकेले कमाने वाला था।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में मकान का बारजा गिरने से बुधवार देर शाम एक युवक की मौत हो गई। युवक मैकेनिक का काम करता था और घर में खाना खाने के बाद गैराज जाने के लिए निकला था। इसी दौरान पड़ोसी के मकान का बारजा उसके ऊपर गिर पड़ा। बताया जा रहा है कि तेज बारिश के चलते हादसा हुआ है। युवक परिवार में अकेले कमाने वाला था और करीब एक साल पहले ही शादी हुई थी। मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, तालापारा भारत चौक निवासी जितेंद्र जोगी पिता (25) पुत्र सौखीलाल जोगी ट्रेलर मैकेनिक था। रोज की तरह बुधवार दोपहर भी खाना खाने के लिए वह घर पहुंचा। इसके बाद शाम को मोहल्ले के स्वयं सहायता समूह में अपना आधार कार्ड जमा कराने गया था। इसी दौरान तेज बारिश होने लगी। पानी बंद हुआ तो वह घर से होता हुआ गैराज के लिए निकला, तभी पड़ोसी बादशाह के मकान का बारजा टूट कर गिर पड़ा।

घर का अकेले कमाने वाला सदस्य था जितेंद्र
स्थानीय लोगों ने हादसा होते देखा तो मलबा हटाकर जितेंद्र को बाहर निकाला और अस्पताल लेकर पहुंचे। वहां डॉक्टरों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि सिर पर गंभीर चोट लगने और मलबे में दबने से उसकी मौत हुई है। जितेंद्र की मौत से पूरा परिवार सदमे में है। वह घर का अकेले कमाने वाला था। उसका छोटा भाई बदमाश है और अभी जेल में बंद है। जबकि पिता मजदूरी करते हैं। ऐसे में परिवार के सामने भी संकट आ गया है।

खबरें और भी हैं...