महामाया देवी के दर्शन करने रतनपुर पहुंचे थे सीएम:मुख्यमंत्री ने एसईसीएल, रेलवे से कहा है कि कोयले की आपूर्ति और परिवहन में बाधा नहीं होनी चाहिए

बिलासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रतनपुर में महामाया देवी का दर्शन किया, प्रदेश की सुख समृद्धि की कामना की। - Dainik Bhaskar
रतनपुर में महामाया देवी का दर्शन किया, प्रदेश की सुख समृद्धि की कामना की।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पावर प्लांटों में कोयला आपूर्ति की संकट पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि एसईसीएल व रेलवे के अधिकारियों से स्पष्ट रूप से कहा गया है कि कोयले की आपूर्ति और परिवहन में किसी भी प्रकार की बाधा नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि एक तरफ भारत सरकार कहती है कि देश में कोयले का कोई संकट नहीं है वहीं दूसरे तरफ विभिन्न राज्यों में पावर प्लांटों के बंद होने की खबरें आ रही है।

कोयला मंत्री छत्तीसगढ़ आए हैं। कोरबा भी जा रहे हैं। ये दोनों बातें विरोधाभाषी है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा जहां तक छत्तीसगढ़ की बात है, उन्होंने एसईसीएल व रेलवे के अधिकारियों से चर्चा की है। उन्हें स्पष्ट रूप से कह दिया गया है कि आपूर्ति और परिवहन में किसी भी प्रकार का व्यवधान नहीं होना चाहिए।

ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल पर कहा परिवहन मंत्री को दोनों पक्षों से बात करने के लिए कहा गया है। बुधवार की दोपहर मुख्यमंत्री बघेल हेलीकॉप्टर से मां महामाया देवी के दर्शन करने रतनपुर पहुंचे थे। मुख्यमंत्री ने मां महामाया देवी की पूजा कर छत्तीसगढ़ की खुशहाली व सुख समृद्धि के लिए प्रार्थना की।

मुख्यमंत्री का कांग्रेसियों ने किया स्वागत
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रतनपुर स्थित मां महामाया मंदिर पहुंचे। हेलीपेड पर बिलासपुर के कांग्रेसजनों ने स्वागत किया। इनमें प्रमुख रूप से संसदीय सचिव विधायक रश्मि सिंह, पर्यटन मंडल अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, महामाया ट्रस्ट अध्यक्ष आशीष सिंह, जिला पंचायत अरूण सिंह चौहान, महापौर रामशरण यादव, जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष प्रमोद नायक, जिला अध्यक्ष विजय केशरवानी, प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय, प्रदेश सचिव महेश दुबे, बेलतरा प्रत्याशी राजेन्द्र साहू, विनय शुक्ला, अरविंद शुक्ला, किसान कांग्रेस संदीप शुक्ला, एनएसयूआई अध्यक्ष आकाश शर्मा, युवा कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष महेन्द्र गंगोत्री, रतनपुर ब्लाक अध्यक्ष रमेश सूर्या, नरेन्द्र बोलर, सीएमडी कॉलेज के पं. संजय दुबे सहित अन्य मौजूद रहे।