पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अधूरी प्लानिंग:दावा है क्रूज तैराने का, जलकुंभी तैर रही बंधवापारा तालाब में, ठेकेदार पर पेनाल्टी

बिलासपुरएक महीने पहलेलेखक: सूर्यकान्त चतुर्वेदी
  • कॉपी लिंक
  • 7 करोड़ खर्च हो गए न तालाब भरा और न पिकनिक स्पॉट बना

हेमूनगर स्थित बंधवापारा तालाब के पानी में नगर निगम ने अप्रैल में क्रूज रेस्टोरेंट तैराने का दावा किया था। साल 2008 से 2013 के बीच तालाब के सौंदर्यीकरण पर 5 करोड़ रुपए था पिछले 3 साल से पीपीपी मॉडल पर 2 करोड़ खर्च हो चुके हैं। इसके बावजूद तालाब में न तो पानी भर पा रहा है और न ही लाइट, फौव्वारे, टाइल्स, पाथ वे, बैठने कुर्सियां आदि कुछ भी नहीं लग पाई हैं।

तालाब की सतह पर घास उग आई है और जलकुंभी तैर रही है। कार्य का ठेका होटल ईशिका ग्रुप रायपुर को दिया गया है। ठेकेदार ने एक्सटेंशन का समय समाप्त होने पर 31 मई को तीसरी बार समयवृद्धि की मांग की है। ठेके की शर्त के मुताबिक 30 सितंबर 2020 से 5 कंपनी पर हजार रुपए प्रतिदिन के हिसाब से पेनाल्टी के साथ समयवृद्धि दी गई।

अधूरी प्लानिंग, घटिया निर्माण की शिकायत ईओडब्ल्यू तक हो चुकी
साल 2008 में तालाब में स्वच्छ पानी भरने के नाम पर गंदे नाले की निकासी बंद कराने दो करोड़ खर्च कर नाला निर्माण किया गया। जो तालाब गंदे नाले के पानी से लबालब रहता था, नाले की निकासी बंद होते ही सूख गया। तालाब में पानी भरने के लिए ट्यूबवेल का सहारा लिया गया। तालाब को पिकनिक स्पॉट बनाने 5 करोड़ रुपए खर्च कर दिए गए पर जनता को इसका लाभ नहीं मिला। गलत प्लानिंग, पैसे की बर्बादी और मेंटेनेंस के अभाव में न तो तालाब में पानी भरने का सपना पूरा हुआ। मेयर वाणी राव के कार्यकाल में तालाब के निर्माण में गड़बड़ी, भ्रष्टाचार की शिकायत ईओडब्ल्यू में की गई।

नई योजना के एक भी काम पूरे नहीं हुए
तालाब में क्रूज रेस्टोरेंट तैराने से लेकर सैर सपाटे, खेलकूद और मनोरंजन की तमाम सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए पीपीपी मॉडल पर योजना बनाई गई। क्रमश: 2.38 करोड़ निगम तथा 2.55 करोड़ ठेकेदार की साझेदारी में साल 2018 से कार्य शुरू हुआ, पर एक भी कार्य अब तक पूरा नहीं हो पाया।

सीधी बात; सुरेश बरुआ, ईई नगर निगम
8 फुट पानी में तैरेगा क्रूज

लाखों रुपए खर्च करने के बावजूद बंधवापारा तालाब में क्रूज रेस्टोरेंट तैराने लायक पानी नहीं भर पाया?
-क्रूज तैराने के लिए 8 फुट पानी भरा जाएगा। वर्तमान में दो ढाई फुट पानी है। पानी भरने के लिए नाले के पानी को उपचारित करने प्लांट लगाया जा रहा है।

तालाब में पानी भरने से लेकर सौंदर्यीकरण के कितने काम हो पाए? कब पूरा होगा प्रोजेक्ट?
-पानी भरने के लिए सिविल वर्क हो चुका है। इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल कार्य बाकी हैं। सौंदर्यीकरण के सारे कार्य चल रहे हैं। कार्य शीघ्र पूर्ण कराने ठेकेदार को नोटिस दी गई है। समयवृद्धि के आवेदन पर कार्य देखने के बाद विचार होगा। पेनाल्टी लगाई जा रही है।

खबरें और भी हैं...