एसपी दीपक झा ने अपराध रोकने बनाई योजना:कालोनियों के पदाधिकारी वाट्सएप से जुड़ेंगे पुलिस से

बिलासपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कालोनियों के पदाधिकारी अब सीधे पुलिस से जुड़ जाएंगे। पुलिस एक वाट्सएप ग्रुप बना रही है। इसमें दोनों शामिल होंगे। इसके जरिए कालोनी में किसी तरह का अपराध होने या संदिग्ध गतिविधियों की सूचना तत्काल पुलिस को भेजी जा सकेगी। इसी तरह पुलिस यहां के गार्ड को चोरी रोकने, चोर पकड़ने की ट्रेनिंग भी देगी।

एसपी दीपक झा की पहल पर यह व्यवस्था पहली बार जिले में हो रही है। चोरी या घर में घुसकर और लूट की वारदातों में इजाफा हो रहा है। इनमें कुछ ऐसी हैं, जो सुरक्षा गार्ड तैनात होने के बाद भी हुईं। वजह ये बनी कि गार्ड प्रशिक्षित नहीं थे। उन्हें महज पहचान के आधार पर भर्ती कर लिया गया। एसपी के अनुसार सुरक्षा गार्ड के जरूरी है कि उसका विजन पावर अच्छा हो, ताकि कॉलोनी में आए व्यक्ति की नेम प्लेट और वाहन की नंबर प्लेट को दूर से भी पढ़ सकें। किसी से मिलने का सलीका हो और वेशभूषा का ज्ञान हो।

अप्रशिक्षित सुरक्षा गार्ड को दी गई ट्रेनिंग
शहर के कवर्ड कैंपस में ज्यादातर सुरक्षा गार्ड अप्रशिक्षित हैं। उन्हें महज नाम, पता पूछने के बारे में तो समझाया गया है, लेकिन बदमाश से मुकाबला करने की ट्रेनिंग नहीं दिलाई गई। ऐसे में इन गार्ड के भरोसे अपनी जान-माल की सुरक्षा को लेकर बेफिक्र रहना मुश्किल में डाल सकता है।

खबरें और भी हैं...