सिम्स का मामला:19 साल की युवती की तड़प-तड़पकर मौत की शिकायत, शुरू हुई जांच

बिलासपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतिका रानू - Dainik Bhaskar
मृतिका रानू

सिम्स में सीने में दर्द होने पर आई 19 साल की युवती का डॉक्टरों ने इलाज नहीं किया। जिसके बाद उसकी मौत हो गई। युवती के पिता ने अस्पताल में डॉक्टर और इलाज नहीं मिलने की शिकायत स्वास्थ्य मंत्री से की है। इसके बाद डीन ने सुपरिटेंडेंट को जांच का जिम्मा सौंपा है। फिलहाल मामले की रिपोर्ट नहीं हुई है, इससे मामला रुका है। कोनी में रहने वाली 19 साल की रानू सोनवानी को 22 सितंबर को मेडिसिन वार्ड में भर्ती किया। उनके पिता राजकुमार सोनवानी ने बेटी के उपचार पर भर्ती की औपचारिकताएं निभाई। जिसके बाद उन्हें बेड दिया गया।

जब वार्ड में भर्ती रानू की तबीयत ज्यादा बिगड़ने लगी तो उन्होंने यहां एक महिला डॉक्टर से उसे देखने की गुजारिश की। महिला डॉक्टर ने उन्हें यह कहकर भगा दिया कि वे अस्पताल में अकेली हैं और मरीज नहीं देख पाएंगी। कुछ देर बाद पिता की आंखों के सामने उसकी बेटी ने इलाज के अभाव में दम तोड़ दिया। जिसके बाद उसकी बॉडी को पिता घर ले आए। यहां अंतिम संस्कार के बाद उन्होंने अपनी पीड़ा स्वास्थ्य मंत्री, कलेक्टर और बड़े अधिकारियों को बताई है। कलेक्टर ने मामले में डीन को चिट्‌ठी भेजकर इसकी जांच शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

मामला संज्ञान में, एमएस से रिपोर्ट मांगी
कोनी से आई जिस युवती की मौत के बाद उसके पिता ने मामले की शिकायत की है, वह मामला मेरी जानकारी में है। मैंने अस्पताल के सुपरिटेंडेंट से जांच रिपोर्ट मांगी है, जो नहीं मिली है। जांच रिपोर्ट आने के बाद कुछ कहना ठीक रहेगा। -डॉ. केके सहारे, डीन, सिम्स

खबरें और भी हैं...