पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्रवाई:मेडिकल कांप्लेक्स में 17 भवनों का निर्माण अवैध मकान मालिक के साथ अब आर्किटेक्ट को भी नोटिस

बिलासपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिन भवनों के निर्माण राजीनामा की सीमा से अधिक होंगे, उन्हें तोड़ दिया जाएगा

वर्षों बाद नगर निगम के बिल्डिंग सेक्शन की ओर से कश्यप कालोनी मेडिकल कांप्लेक्स के अवैध निर्माण के मामले में नापजोख कर नोटिस दिया गया है। मकान मालिकों के साथ निगम प्रशासन ने इस बार आर्किटेक्ट को भी जवाब तलब करने का निर्णय लिया है। किभी भी निर्माण के पीछे आर्किटेक्ट की भूमिका होती है। मकान नक्शे  के प्रस्ताव आर्किटेक्ट के माध्यम से निगम को भेजे जाते हैं, इसलिए अवैध निर्माण में मकान मालिक के साथ आर्किटेक्ट की भी बराबर की जिम्मेदारी है। बिल्डिंग सेक्शन की ओर से मंगलवार को मेडिकल कांप्लेक्स के 17 मकान मालिकों को नोटिस दी गई।
बड़े रसूखदारों के नाम नदारद
अवैध निर्माण की पहली लिस्ट में 17 लोगों के नाम हैं, जिन्हें नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 307(2) के अंतर्गत नोटिस दिया है। 7 दिनों के अंदर मकान नक्शे व अन्य कागजात लेकर जवाब देने कहा है। गोविंद कुमार कुम्भारे, भगवान क्लॉथ स्टोर मध्यनगरीय चौक, मनोज वृंदावन परिसर, आदित्य ट्रेडिंग, कुलदीप कनकने कान्हा मेडिकल  स्टोर, दिलीप लालवानी, दुर्गा प्रसाद विश्वकर्मा आशीष डेली नीड्स के पास, पुष्पा अग्रवाल राधा मेडिकल स्टोर,  जी. मेडिकल पुष्पा देवी मोहलानी, राम हिन्दुजा प्रदीप मेडिकल के सामने, जगत मेडिकल एजेंसी तेलीपारा, वीएस राघव जगत मेडिकल के सामने, मुन्नालाल  यादव गुरु मेडिकल के सामने,  कुतुबुद्धीन बनक, साबिर हुसैन, मुस्तानसिर वनक, राजेंद्र कुमार अग्रवाल जगत मेडिकल को नोटस दिया है। रसूखदारों ने नोटिस की लिस्ट से अपने नाम कटवाने जोड़तोड़ तेज कर दिया है। अवैध निर्माण करने वालों में हड़कंप है। कारण अधिकांश भवनों के प्रकरण राजीनामा की सीमा से बाहर हैं। ऐसे निर्माण को निगम सीधे जमींदोज करने की कार्रवाई कर सकता है। बिल्डिंग ऑफिसर जीएस ताम्रकार के मुताबिक आर्किटेक्ट को 3 दिनों के अंदर जवाब देने कहा गया है।

बेजा कब्जा के चलते 40 फुट की रोड 20 फुट में सिमटी
मेडिकल कांप्लेक्स के ले आउट के मुताबिक रोड की चौड़ाई 40 फुट है, परंतु बेजा कब्जा तथा अवैध निर्माण के चलते रोड की चौड़ाई 20 से 30 फुट तक रह गई है। कांप्लेक्स और ऊंची बिल्डिंग का निर्माण करते सुरक्षा के मापदंडों का भी पालन नहीं किया गया है। अग्निकांड या आपात स्थिति में ऐसी जगहों पर फायर ब्रिगेड पहुंचाने में मुश्किल होगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें