पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुरक्षा गार्ड की शिकायत पर कोनी पुलिस ने की कार्रवाई:सुरक्षा गार्डों के पीएफ से करोड़ों निकाले, दो डॉयरेक्टर पर जुर्म दर्ज

बिलासपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आइडिया इंक मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के दो डॉयरेक्टरों ने मिलकर करीब 300 सुरक्षा गार्डों के पीएफ का करोड़ों रुपए गबन किया। गुरु घासीदास सेंट्रल यूनिवर्सिटी में पदस्थ सुरक्षा गार्ड की शिकायत पर कोनी पुलिस ने दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का जुर्म दर्ज किया है। मुंगेली जिले के ग्राम बिरगहनी निवासी संजय पाटले पिता जागेश्वर पाटले 28 वर्ष आइडियाज इंक मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की ओर से 2016 से सीयू कोनी में ड्यूटी कर रहे हैं। उन्हें 10 हजार 500 रुपए वेतन मिलता है, जो बैंक में जमा होता है।

उनकी भविष्य निधि व बीमा की कटौती कभी होती है, कभी नहीं होती। उनके जैसे करीब 300 कर्मचारियों की जब से नियुक्ति हुई है तब से आज तक न तो कंपनी ने उन्हें नियुक्ति पत्र दिया है और न ही मासिक वेतन पर्ची दिया। इसकी शिकायत कई बार सीयू प्रशासन व कंपनी के संचालकों से की पर कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई। कुछ दिन पहले कंपनी ने नए संचालक अनिल कुमार बघेल की नियुक्ति विश्वविद्यालय में की। जब कर्मचारी वेतन भुगतान व अन्य कई समस्याओं को लेकर उनके पास जाकर विश्वविद्यालय परिसर में मिले तब पहली पता चला कि सभी के मासिक वेतन से हजारों रुपए एडवांस व हजारों रुपए पीएफ के नाम पर काटे जा रहे हैं।

पीएफ, ईएसआईसी की रकम जो पत्रक में दिखाया गया है, उससे बहुत कम कभी-कभी जमा की जाती है। अनिल कुमार बघेल ने एडवांस रजिस्टर दिखाया तो पता चला कि उसमें किए गए सभी हस्ताक्षर उनके या कर्मचारियों ने नहीं किए। उनके फर्जी हस्ताक्षर कर एडवांस में रकम निकालकर भी गबन किया गया है। कंपनी से कर्मचारियों को जो पारिश्रमिक प्रदान किया जाता है, उस राशि को कंपनी फर्जी तरीके से निकालकर कर्मचारियों को उक्त राशि का आधा भुगतान कर करोड़ों रुपए की हेराफेरी की। कंपनी के निर्देशक मानब पाल व मनोज मिश्रा ने मिलकर इस काम को अंजाम दिया। पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का जुर्म दर्ज कर लिया है।

कंपनी व यूनिवर्सिटी प्रबंधन पर धमकाने का आरोप
कर्मचारियों को अनिल कुमार बघेल से जानकारी मिली है, उस दिन से कई बार अनिल कुमार बघेल के साथ विश्वविद्यालय प्रशासन व कंपनी के निर्देशकों से इस संबंध में लिखित में शिकायत की व हड़ताल किया पर समाधान करने की बजाए विश्वविद्यालय व कंपनी के निर्देशकों ने कर्मचारियों को डराया, धमकाया व नौकरी से निकालने नोटिस दिया। उन्होंने साथ दे रहे तात्कालिक संचालक अनिल कुमार बघेल को भी कंपनी के निदेशक पद से हटा दिया। जबकि उन्होंने कभी अपने पद से इस्तीफा नहीं दिया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें