हथौड़ा से ताबड़तोड़ हमला:प्रेमी से शादी करने के लिए मांगा तलाक तो पति ने हथौड़ा मारकर की हत्या, थाने में किया सरेंडर

बिलासपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इस हथौड़े से आरोपी ने पत्नी को मार डाला। - Dainik Bhaskar
इस हथौड़े से आरोपी ने पत्नी को मार डाला।
  • बच्चों को कमरे में बंद कर सिटकिनी लगा दी थी, दोनों ने रिश्तेदारों को फोन किया पर बात नहीं हो पाई

प्रेमी से शादी करने के लिए महिला ने अपने पति से तलाक मांगा तो पति बिफर पड़ा और उस पर हथौड़ा से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। इससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने थाने में समर्पण कर दिया। वारदात को अंजाम देने से पहले दोनों बच्चों को एक कमरे में बंद कर दिया था।

वे लगातार रिश्तेदारों को कॉल करने की कोशिश करते रहे पर नेटवर्क बंद होने के कारण सफल नहीं हो सके बाद में मैसेज पढ़कर परिजन वहां पहुंचे पर तब तक देर हो चुकी थी। घटना सिविल लाइन थाना क्षेत्र की है। मंझवापारा निवासी अक्षय भार्गव पिता पुनउराम भार्गव 45 वर्ष अपनी पत्नी हरकुमारी 40 वर्ष व बच्चों के साथ सुशील राय के मकान में किराए से रहता था। अक्षय कुछ काम नहीं करता था। हरकुमारी जीएसटी कार्यालय में प्यून थी। उसके पैसे से ही घर का खर्च चलता था। अक्षय अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह करता था। इस कारण दोनों के बीच में आए दिन विवाद होता था। हरकुमारी इसके कारण महिला थाने में पति के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। केस चल रहा था। इसके बाद पति-पत्नी अलग रहने लगे।

बच्चों ने रिश्तेदारों को फोन लगाया पर नेटवर्क ही बंद था
दोनों बच्चे कमरे में बंद थे पर उनके पास मोबाइल था। अनहोनी की अशंका के चलते उन्होंने मोबाइल से अपने रिश्तेदारों को कॉल किया पर कंपनी का नेटवर्क बंद होने के कारण उन्हें सफलता नहीं मिली। आखिरकार उन्होंने मैसेज भेजा। मामा और मौसी इन्हें पढ़ने में देर कर दी और घर आए तब तक उनका पिता वारदात को अंजाम देकर थाने चला गया था।

बहन पहुंची फिर भाई आया पर देर हो चुकी थी
हरकुमारी की बहन सुजाता बिलासपुर में ही राजेंद्र नगर गर्ल्स कॉलेज के पास रहती है। नर्सिंग होम में नौकरी करती है। मैसेज पढ़ते ही वह बहन के घर पहुंची। उसने घटना की जानकारी घर मालिक को दी। इस बीच सुजाता का भाई भी आ गया था।

सुबह ऑफिस वालों ने कराया था समझौता
मंगलवार की सुबह जीएसटी ऑफिस वालों ने पति-पत्नी को ऑफिस बुलाकर समझौता कराया था। उनके रिश्तेदारों को भी बुलाया गया था। यहां से दोनों साथ रहने के लिए राजी हो गए थे। दोपहर को दोनों मंझवापारा आ गए। बच्चे पहले से ही पिता के पास थे। घर आने के बाद उनके बीच फिर पुरानी बात को लेकर झगड़ा हुआ। आरोपी के अनुसार झगड़े के बाद हरकुमारी ने उसे साफ कह दिया था कि वह अपने प्रेमी के साथ रहना चाहती है। वह तलाक मांगने लगी थी। इस विवाद बढ़ गया। गुस्से में आकर उसने हथौड़ा उठा लिया और ताबड़तोड़ हमला कर दिया, जिससे हरकुमारी की मौके पर ही मौत हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद वह उसी हालत में सिविल लाइन थाने पहुंचा और पुलिस के सामने समर्पण कर दिया। इसके बाद दोनों के परिजन भी थाने पहुंचे। पुलिस मौके पर गई और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। मामले में महिला की बहन की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

बच्चों को बंद कर, पत्नी को धकेलते ले गया
रात को अक्षय परिवार के साथ एक ही कमरे में था। झगड़ा हुआ तो दोनों बच्चे उठ गए। आरोपी दोनों बच्चों अनीश 13 वर्ष व मनीष 12 वर्ष को दूसरे कमरे में ले जाकर बाहर से सिटकिनी लगा दी और पत्नी को धकेलते किचन में ले गया।

खबरें और भी हैं...