पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जून-जुलाई के 8 मुहूर्तों में ज्यादा शादियां, तैयारियां शुरू:केवल 10 लोगों के ही शामिल रहने की अनिवार्यता के कारण ज्यादातर ने टाल दिए आयोजन

बिलासपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अब जून-जुलाई के 8 मुहूर्तों में ज्यादा शादियां होने की संभावना है क्योंकि मैरिज हॉल को छूट देने के साथ ही 50 लोगों के शादी में शामिल होने की छूट प्रशासन ने दी है। हालांकि मैरिज हॉल व टेंट वाले कह रहे है कि अभी कहा गया है कि 50 से ज्यादा लोग आए तो मैरिज हॉल सील कर देंगे, अब हम व्यवस्था देखेंगे या लोगों की गिनती करेंगे।

वे लोगों को आने से कैसे रोकेंगे। लोग यदि निमंत्रण ही नहीं देंगे तो लोग आएंगे कैसे। प्रशासन को शादी करने वाली पार्टी को हिदायत देना चाहिए कि वे 50 से ज्यादा को न बुलाएं। लॉकडाउन खुलने के साथ ही अब मैरिज हॉल को भी खोलने की छूट दे दी गई है। हालांकि 50 लोग ही शादी में कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए रह सकते हैं लेकिन यह राहत की बात तो है। हालांकि व्यावसायिक दृष्टिकोण से यह टेंट, लाईट, बैंड बाजा, मैरिज हॉल और कैटरिंग वालों के लिए उतना लाभकारी नहीं है लेकिन जो एक तरह से पूरा बंद था वह शुरू तो हो गया है और आने वाले दिनों में सब पहले जैसा होने की उम्मीद तो जाग ही गई है।

जून और जुलाई के आठ मुहूर्त पर ही शादियों का ज्यादा जोर रहने वाला है क्योंकि 20 जुलाई से चातुर्मास शुरू हो जाएगा और मांगलिक कार्य 4 महीने के लिए प्रतिबंधित हो जाएंगे। जून में 4, 5, 18, 20, 26 व 30 तारीख तो जुलाई में 1 व 2 तारीख को ही मुहूर्त है। इसके बाद 20 नवंबर तक चातुर्मास और उसके बाद शादियों का मुहूर्त है। भास्कर ने कुछ परिवारों से बात की। मंगला निवासी श्यामाचरण पटेल ने बताया कि पहले उनकी बेटी की शादी अप्रैल में होने वाली थी लेकिन कोरोना के कारण आगे टाल दी थी। अब स्थिति सामान्य हो रही है इसलिए जून में शादी करेंगे। इसी तरह कुछ और लोगों ने भी शादी करने की बात कही।

बार-बार बदलते रहे नियम

  • { पहले केवल 20 लोगों को शादी में रहने की छूट दी गई।
  • { संक्रमण बढा तो वर वधु को घर में 10 की मौजूदगी में फेरे लेने कहा गया।
  • { संक्रमण घटा तो आदेश आया कि होटल या घर में शादी की अनुमति,50 मेहमान शामिल हो सकते हैं।
  • { अब मैरिज हॉल में शादी की छूट पर 50 मेहमान ही शामिल हो सकते हैं।

अभी व्यवसाय में थोड़ी ही राहत होगी
टेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष अमरजीत दुआ ने बताया कि 50 लोगों को ही शादी में शामिल होने की छूट दी गई है। इसकी वजह से छोटे मैरिज हॉल ही बुक होंगे। लाइट, टेंट, मैरिज हॉल, डीजे, केटरिंग, बैंड बाजा, घोड़ी और फूल वालों को थोड़ी राहत मिलेगी पर जब तक ज्यादा लोगों को शादी में शामिल होने की छूट नहीं मिलेगी, आमदनी नहीं होगी।

अभी भी लेनी होगा शादी की अनुमति
शादी के लिए अभी केवल ऑनलाइन आवेदन ही मंजूर किए जा रहे हैं। बिलासपुर एसडीएम देवेंद्र पटेल ने बताया कि मैरिज हॉल वालों को नियमों का पालन करना होगा। इधर शादी के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है। https://edistrict.cgstate.gov.in/PACE/login.do में लॉगिन कर आवेदन कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...