छत्तीसगढ़ सरकार उठाएगी राहुल की पढ़ाई का खर्च:मासूम की मां बोली-आप हमारे देवता हैं, CM भूपेश ने कहा- हमने अपना फर्ज निभाया

बिलासपुर6 महीने पहले
मुख्यमंत्री ने अपोलो अस्पताल पहुंचकर राहुल का जाना हाल।

छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा के पिहरीद गांव में 60 फीट गहरे बोरवेल में फंसे राहुल को सुरक्षित बाहर निकालने के बाद बुधवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उससे मिलने अपोलो अस्पताल पहुंचे। मुख्यमंत्री को देखकर राहुल की मां गीता साहू भावुक हो गई और उनका पैर पकड़ते हुए बोली कि आप हमारे लिए देवता हैं। जवाब में मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हमने अपना फर्ज निभाया है। अब छत्तीसगढ़ सरकार राहुल की पढ़ाई लिखाई की भी व्यवस्था करेगी। सीएम ने राहुल के परिजनों से भी बातचीत की है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राहुल की मां गीता साहू के सिर में हाथ फेरते हुए उन्हें सांत्वना दिया और धैर्य रखने के लिए शाबाशी भी दी। उन्होंने कहा कि रेस्क्यू टीम ने अपना काम बेहतरीन तरीके से किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने राहुल के स्वास्थ्य की भी जानकारी ली। उनके साथ शहर विधायक शैलेष पांडेय, महापौर रामशरण यादव, पर्यटन मंडल के अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव सहित कांग्रेस नेता व अधिकारी मौजूद रहे।

राहुल की मां गीता साहू बार-बार अपने लाडले के सिर पर हाथ फेर रही हैं।
राहुल की मां गीता साहू बार-बार अपने लाडले के सिर पर हाथ फेर रही हैं।

10 जून को राहुल के बोरवेल में गिरने की जानकारी मिलने के बाद से प्रदेश के मुख्यमंत्री लगातार पल-पल की खबर ले रहे थे। इस दौरान उन्होंने राहुल को बचाने हरसंभव कोशिश करने के निर्देश दिए भी दिए थे। मुख्यमंत्री बघेल रेस्क्यू ऑपरेशन की हर एक गतविधियों पर खुद नजर रखे थे। यही वजह है कि राहुल के सुरक्षित बाहर आते ही उन्होंने सबसे पहले ट्विट किया।

दिल्ली से सीधे पहुंचे बिलासपुर

मंगलवार की रात राहुल के सुरक्षित रेस्क्यू के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने खुशी जाहिर की थी। साथ ही उन्होंने सेना, NDRF और रेस्क्यू में लगे सभी लोगों के चट्‌टानी इरादों की तारीफ की थी। मुख्यमंत्री राहुल से मिलने दिल्ली से सीधे बिलासपुर पहुंचे।

CM को देखते ही भावुक हो गई राहुल की मां।
CM को देखते ही भावुक हो गई राहुल की मां।

राहुल से मिलने वालों की लगी होड़
राहुल के अपोलो अस्पताल में भर्ती होने की जानकारी मिलते ही शहर के नेताओं के साथ ही अधिकारियों के मिलने का सिलसिला शुरू हो गया। कमिश्नर डॉ. संजय अलंग के साथ ही IG रतनलाल डांगी, कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर, SP पारुल माथुर के साथ ही कांग्रेस नेता मिलने के लिए अपोलो अस्पताल पहुंचे।