मौसम का मिजाज:मई में दूसरी बार तापमान 43 डिग्री से अधिक, फिर गर्मी से परेशान हुए लोग

बिलासपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
तपिश बढ़ने पर लोग गर्मी से बचने का उपाय कर रहे हैं। - Dainik Bhaskar
तपिश बढ़ने पर लोग गर्मी से बचने का उपाय कर रहे हैं।

एक बार फिर शहर का अधिकतम तापमान 43 डिग्री से ज्यादा रिकॉर्ड किया गया। महज 24 घंटे में करीब दो डिग्री की वृद्धि होने की वजह से लोग गर्मी से परेशान हो गए। शाम को आंधी चली। सबसे ज्यादा गर्मी मई माह में महसूस होती है। मई में शहर का अधिकतम तापमान सर्वाधिक रिकॉर्ड होता है। इस बार शुरुआत में तो यही हुआ। पहली ही तारीख यानी 1 मई को शहर का अधिकतम तापमान 43 डिग्री रिकॉर्ड हुआ। हालांकि इसके बाद तापमान में कमी आई। 2 मई को 40.4 डिग्री दर्ज हुआ।

3 मई को फिर तापमान बढ़ गया और यह 43.6 डिग्री रिकॉर्ड हुआ। 4 मई को फिर से घटकर 40.4 डिग्री, 5 मई को 41.4 डिग्री, 6 मई को घटकर 39 डिग्री, 7 मई को 40.4 डिग्री, 8 मई को 41.4 डिग्री, 9 मई को 40.4 डिग्री तो 10 मई को असानी तूफान के असर से घटकर 37.6 डिग्री तो 11 मई को 37 डिग्री दर्ज हुआ। इसके बाद फिर से तापमान बढ़ने लगा। तभी तो 12 मई को 40.4 डिग्री, 13 मई को 41.6 डिग्री और 14 मई को 43.2 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। शनिवार को सुबह से ही तेज धूप और गर्मी की वजह से लोग परेशान हो गए। जैसे-जैसे दिन गुजरता गया, गर्मी भी बढ़ती गई। दोपहर में तो लोगों की हालत खराब हो गई। गर्मी की वजह से बार-बार गला सूखता रहा और पसीना निकलता रहा।

27 मई को केरल पहुंचेगा मानसून
मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि भारत मौसम विज्ञान विभाग ने केरल में दक्षिण-पश्चिम मानसून आने का पूर्वानुमान जारी किया है। इसके मुताबिक इस बार मानसून 27 मई को केरल पहुंचने की संभावना है।

खबरें और भी हैं...