बिलासपुर में तीसरी लहर का खतरा:एक साथ मिले 58 मरीज, पूर्व मंत्री का बेटा-पत्नी और डॉक्टर दंपती पॉजिटिव; अब तक 314 विदेश से लौटे

बिलासपुर6 महीने पहले

नए साल के पहले दिन बिलासपुर में 58 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। संक्रमितों में पूर्व मंत्री की पत्नी-बेटा, डॉक्टर दंपती, पार्षद पति व कैदी भी शामिल हैं। शनिवार को जो मरीज मिले हैं, उनमें 44 जगहों में नए संक्रमित पाए गए हैं। नए मरीजों के साथ ही पिछले पांच दिनों में कोरोना संक्रमितों की संख्या 158 हो गई है। इसके साथ ही जिले में एक्टिव केस 187 पर पहुंच गया है। जिले में कोरोना पीड़ितों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। ऐसे में अब कोरोना से निपटने सावधान रहने की जरूरत है।

दिसंबर के आखिरी सप्ताह से ही कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। 31 दिसंबर को 43 कोरोना पॉजिटिव मिले थे। नए मरीजों की संख्या मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है। इधर, नए साल के पहले दिन से विस्फोट होने लगा है। इसके लिए जिला प्रशासन को अब जिम्मेदार बताया जा रहा है।

दरअसल, प्रशासन की छूट के कारण मरीजों की संख्या में रोजाना लगभग डेढ़ से दोगुना वृद्धि हो रही है। 31 दिसंबर की रात भले ही प्रशासन ने न्यू ईयर पार्टी में लगाम लगाने का दावा किया था। लेकिन, शहर के होटलों में देर रात तक भीड़ के पार्टियों का दौर चलता रहा। साल के पहले दिन भी एक जनवरी को पिकनीक स्पॉट, कानन पेंडारी व मॉल में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। यही वजह है कि लगातार नए मरीजों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है। ऐसे में कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका जताई जा रही है। अब कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए आम लोगों को सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

भीड़ पर नियंत्रण व गाइडलाइन का पालन करना जरूरी
जिस तरह से कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है। इस स्थिति से निपटने के लिए अब बाजार व सार्वजनिक इलाकों में पाबंदी जरूरी हो गया है। लोगों को मास्क पहनने के साथ ही फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए भी प्रशासन को ध्यान देने की आवश्यकता है। नहीं, तो आने वाले समय में कोरोना फिर से भयावह रूप ले सकता है। CMHO डॉ. प्रमोद महाजन ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लोगों से गाइडलाइन का पालन करने की अपील की है।

28 दिन पहले विदेश से लौटे थे पूर्व मंत्री के बेटे
राजेंद्र नगर में रहने वाले 68 वर्षीय पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल पार्टी के काम से मुंबई और दिल्ली आना-जाना कर रहे थे। उन्हें सर्दी, खांसी और शरीर में दर्द हुआ तो जांच कराई और 29 दिसंबर को उनके संक्रमित होने की पुष्टि हुई। इसके बाद उनके 32 साल के बेटे आदित्य और 57 साल की पत्नी शशि ने जांच कराई। शनिवार रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अब संपर्क में रहने वालों की जांच की जाएगी। पूर्व मंत्री के बेटे 28 दिन पहले विदेश से यात्रा कर लौटे थे। उनका होम आईसलोशन पीरियड पूरा हो गया था। पिता के संक्रमित आने के बाद एहतियात के तौर पर बाद उन्होंने टेस्ट कराया और कोरोना संक्रमित मिल गए।

विदेश से 8 यात्री लौटे, अबतक 314 लोग आ चुके हैं
अमेरिका और सऊदी अरब (UAE) से 8 यात्री शहर लौटे हैं। सभी को उनके घरों पर क्वारेंटाइन कर दिया गया है। तीन लोग गुरुघासीदास यूनिवर्सिटी के पास के रहने वाले हैं। वहीं पांच यात्री हर्ष किंगडम, रॉयल टाउन और ओम नगर के रहने वाले हैं। नए यात्रियों को मिलाकर अब तक 314 लोग विदेश से आ चुके हैं। 210 लोगों का 14 दिनों का क्वारेंटाइन पीरियड पूरा हो गया है। 104 लोग स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में है।

मेंटल हॉस्पिटल में मिले 5 मरीज
शहर के साथ ही सेंदरी के मेंटल हॉस्पिटल में भी शनिवार को 5 मरीज मिले हैं। इसमें 22, 47, 41,36 वर्ष की महिला सहित एक 26 वर्षीय युवक भी कोरोना संक्रमित मिला है। इसमें 47 और 36 वर्षीय महिलाओं में कोरोना के लक्षण हैं। अन्य मरीजों में कोरोना के कोई लक्षण नहीं है। सभी की जांच सिम्स के लैब में हुई है।

डॉक्टर दंपती भी संक्रमित
अब शहर में हेल्थ से जुड़े लोग भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आने लगे हैं। शनिवार को डॉक्टर दंपती भी संक्रमण का शिकार हो गया। विद्या नगर सांई होम्स निवासी 42 वर्षीय डॉ. आरती देंम्बरा और 45 वर्षीय डॉ. विजय कुमार देंम्बरा की रिपोर्ट RT-PCR जांच में पॉजिटीव आई है।

44 मोहल्लों में मिले नए मरीज
स्वास्थ्य विभाग के अफसरों का कहना है कि शनिवार को जो नए मरीज मिले हैं, उनमे ज्यादातर लोग नए इलाकों से हैं। ऐसे में माइक्रो कंटेनमेंट जोन के अलावा 44 मोहल्लों तक संक्रमण फैलने की आशंका है। अफसर बताते हैं कि वर्तमान परिस्थिति में कोरोना संक्रमण की टेस्टिंग व ट्रेसिंग ट्रेवल हिस्ट्री से पता लगाना मुश्किल हो गया है। यह भी देखा गया है कि संक्रमित मरीज अपने घर के सदस्यों के साथ ही आसपास के लोगों को भी संक्रमित कर रहे हैं।

शनिवार को विजयापुरम कॉलोनी सरकंड़ा, देवरीखुर्द, गार्डन सिटी, बाजपेई बाड़ा मसानगंज, राजेंद्र नगर, विवेकानंद नगर मोपका, कासीमपारा तोरवा, सेंट्रल जेल, सूरज चौक चिंगराजपरा, राजीव विहार, अशोक नगर, शिव चौक कुदुदण्ड, कतियापारा, राम मंदिर लिंगियाडीह, जगमल चौक, सरजू बगीचा, उसलापुर, कोनी, हेमू नगर, तोरवा, नेहरू नगर, सेंदरी मेंटल हॉस्पिटल, बिल्हा, मल्हार, मस्तूरी, खोरसी, रिस्दा, वेद परसदा, हरदीबाजार, एसपी ऑफिस, साई होम्स विद्या नगर, मस्जिद चौक राजकिशोर नगर, शुभम विहार, तिलक नगर, महामाया विहार, विनोबा नगर, पंजाबी कॉलोनी, जूना बिलासपुर और गुरूघासीदास विश्व विद्यालय सहित 44 मोहल्लों में नए संक्रमित मिले हैं।
4 हजार से अधिक को लगा वैक्सीन
शनिवार को 4 हजार 606 लोगों ने वैक्सीन लगवाई। 3798 ने दूसरा तो 808 ने पहला डोज लगवाया। सबसे ज्यादा 18 प्लस वाले 3544 ने वैक्सीन लगवाई। 682 ने पहला तो 2862 ने दूसरे डोज का इंजेक्शन लगवाया। 66 प्लस उम्र वाले 15 लोगों ने पहला और 39 ने दूसरा डोज लिया। 45 से 59 वर्ष वाले 111 ने पहला और 897 ने दूसरा डोज लगवाया। 181 सेंटरों पर 4 हजार 235 लोगों को कोविशील्ड वैक्सीन लगाई गई। 120 सेंटरों पर 371 लोगों ने को-वैक्सीन का टीका लगवाया।

पूरे प्रदेश में 279 मरीज मिले
बिलासपुर शहर के साथ ही अब पूरे प्रदेश में कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं। शनिवार को स्वास्थ्य विभाग ने जो आकड़ें जारी किए हैं। उसके मुताबिक पूरे प्रदेश में 279 मरीज मिले हैं। इतने मरीज पूरे प्रदेश में काफी दिनों पाए गए हैं। इनमें रायपुर में सबसे ज्यादा 73 मरीज मिले। शनिवार को रायपुर में एक मरीज की मौत भी हुई है।

खबरें और भी हैं...