बिलासपुर में बच्चों के सामने मां का कत्ल:GST कर्मचारी के चरित्र पर शक करता था पति; सिर पर हथौड़ी से पीट-पीटकर मार डाला, फिर थाने जाकर सरेंडर किया

बिलासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चरित्र पर संदेह था, सिर्फ इसलिए पत्नी की हत्या कर दी। - Dainik Bhaskar
चरित्र पर संदेह था, सिर्फ इसलिए पत्नी की हत्या कर दी।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में बुधवार तड़के एक युवक ने बच्चों के सामने ही हथौड़ी से पीट-पीटकर अपनी पत्नी को मार डाला। इसके बाद थाने पहुंच कर सरेंडर कर दिया। आरोपी की पत्नी GST कर्मचारी थी। पति उसके चरित्र पर संदेह करता था। मामला सिविल लाइंस थाना क्षेत्र का है। आरोपी के घर पहुंची पुलिस मामले की जांच कर रही है। महिला का शव किचन में पड़ा मिला है। फिलहाल आरोपी और परिजनों से पूछताछ जारी है।

अक्षय ने हथौड़ी से हरीकुमारी के सिर पर एक के बाद एक कई वार कर दिए।
अक्षय ने हथौड़ी से हरीकुमारी के सिर पर एक के बाद एक कई वार कर दिए।

मंझवापारा निवासी अक्षय भार्गव की पत्नी हरी कुमारी (40) GST कार्यालय में पदस्थ थीं। अक्षय अपनी पत्नी के चरित्र पर शक करता था। इसके चलते दोनों के बीच अक्सर विवाद होता रहता था। बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह करीब 5 बजे भी हरीकुमारी किचन में थी। इसी दौरान किसी बात को लेकर दोनों में विवाद शुरू हो गया। बात इतनी बढ़ी कि अक्षय ने हथौड़ी से हरीकुमारी के सिर पर एक के बाद एक कई वार कर दिए।

अक्षय खुद थाने पहुंच गया। पीछे-पीछे बच्चे और अन्य परिजन भी थाने पहुंच गए।
अक्षय खुद थाने पहुंच गया। पीछे-पीछे बच्चे और अन्य परिजन भी थाने पहुंच गए।

15 साल पहले हुई थी शादी, कोई काम नहीं करता था अक्षय
हथौड़ी से हुए कई वार के चलते हरीकुमारी लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ी। शोर सुनकर जागे बच्चे यह सब देख कर घबरा गए। इसके बाद अक्षय खुद थाने पहुंच गया। पीछे-पीछे बच्चे और अन्य परिजन भी थाने पहुंच गए। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। अक्षय भार्गव कोई काम नहीं करता है। हरीकुमारी से करीब 15 साल पहले शादी हुई थी। उनके दो बच्चे भी हैं, 13 साल का अनीश भार्गव और 12 साल का मनीष भार्गव।

​​​​​​​

पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। फॉरेंसिक टीम को भी बुलाया गया है।
पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। फॉरेंसिक टीम को भी बुलाया गया है।
खबरें और भी हैं...