पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • If The Meter Reading Is Not Done, Then The Electricity Bill Will Not Be Generated; Electricity Bill Will Be Generated Only After Reading Within Three Meters From The Meter.

एवरेज बिल की छुट्‌टी:मीटर रीडिंग नहीं हुई तो बिजली बिल भी नहीं बनेगा; मीटर से तीन मीटर की दूरी में रीडिंग करने पर ही बिजली बिल बनेगा

बिलासपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मौके पर मीटर रीडर नहीं गए तो बिजली बिल ही नहीं बनेगा। अब रीडरों को नियमित मौके पर जाकर रीडिंग करनी होगी। इसका सीधा फायदा उपभोक्ताओं को मिलेगा। अब तक नियमित रीडिंग नहीं होने पर उन्हें एक साथ कई माह के बिजली बिल का भुगतान करना पड़ता था।

मीटर रीडर मौके पर न जाकर उपभोक्ताओं को एवरेज बिल थमा देते थे और अचानक एक साथ ज्यादा राशि का बिजली बिल आने पर उपभोक्ता को जबरिया उसे भुगतान करना पड़ता था। अब मीटर रीडिंग का काम ही ब्लूटूथ से कनेक्ट कर दिया गया है । इसके लिए मीटर रीडर को मीटर से तीन मीटर की दूरी से रीडिंग करनी होगा। तभी रीडिंग ब्लूटूथ के जरिए रियल टाइम में सॉफ्टवेयर में दर्ज होगी। यदि मीटर से दूरी अधिक हुई तब सॉफ्टवेयर में रीडिंग ब्लूटूथ के जरिए दर्ज ही नहीं हो पाएगी और बिजली बिल ही नहीं बन पाएगा।

इस सिस्टम को अमल में लाने के लिए शहर के दोनों पूर्वी और पश्चिमी डिवीजन के 1 लाख 25 हजार उपभोक्ताओं का सर्वे कर कनेक्शन के हिसाब से अक्षांश और देशांश का डेटा तैयार कर सॉफ्टवेयर में डाल गया है। इसलिए जब भी मीटर रीडर तीन मीटर की दूरी से अधिक होगा उसका अक्षांश और देशांश बदल जाएगा और रीडिंग नहीं हो पाएगी। पूर्वी डिवीजन के ईई पीवीएस राजकुमार के अनुसार इस सिस्टम से मीटर रीडरों को चेक किया जा सकेगा कि किस रीडर ने कितने कनेक्शन चेक किए हैं।

मीटर रीडर के पास होगा ब्लूटूथ प्रिंटर
इस सिस्टम को अमल में लाने के लिए मीटर रीडरों को ब्लूटूथ प्रिंटर दिया जाएगा। ब्लूटूथ प्रिंटर से मीटर रीडर बिजली बिल प्रिंट कर सकेंगे। इसके साथ ही मीटर रीडरों के पास मोबाइल का भी ग्रेड तय किया जा रहा है। उन्हें तय मेगा पिक्सल कैमरा और 3 जीबी रैम वाले मोबाइल ही रखने होंगे।

15 तारीख तक लेनी होगी रीडिंग
विभाग अब तय समय में रीडिंग पूरी करने के लिए भी संजीदा है। इसके लिए मीटर रीडरों को 1 तारीख से 15 तारीख तक मीटर रीडिंग खत्म करना होगा। अभी 21 से 22 तारीख तक रीडिंग हो पाता था। तीन बैच को 1 से 5 दूसरे को 6 से 10 और तीसरे को 11 से 15 तक पूरे शहर की रीडिंग खत्म करना होगा। नए सिस्टम में राज्य के बेरोजगार युवकों को भी मीटर रीडिंग में सीधे काम मिल सकता है। इसके लिए उन्हें विभागीय अधिकारियों से मिलना होगा।

खबरें और भी हैं...