पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महंगाई के विरोध में साइकिल रैली:उद्योगपति व मोदी खा रहे, जनता भूखी मर रही: मरकाम

बिलासपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रिवर व्यू में कार्यक्रम को संबोधित करते प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम व अन्य कांग्रेस नेता। - Dainik Bhaskar
रिवर व्यू में कार्यक्रम को संबोधित करते प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम व अन्य कांग्रेस नेता।
  • केंद्र सरकार पर बोला हमला-23 करोड़ लोग गरीबी रेखा के नीचे आ गए

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने केंद्र की भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि सरकार में आने से पहले नरेंद्र मोदी ने कहा था हमें मौका दीजिए प्रधानसेवक बनूंगा। चौकीदार बनूंगा। कहा था न खाऊंगा न खाने दूंगा। देश के चंद उद्योगपति और मोदी खा रहे हैं लेकिन देश की जनता को खाने नहीं देते। 2014 के भाषण को याद दिलाते हुए कहा कि वे कहते थे-बहुत हो गई महंगाई की मार, अबकी मार मोदी सरकार। सात साल में हमारा कहना है- बहुत हो गई महंगाई की मार, बस करो मोदी सरकार।

पेट्रोल-डीजल की महंगाई के खिलाफ बुधवार को कांग्रेस की साइकिल रैली में प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम शामिल हुए। संगठन महामंत्री चंद्रशेखर शुक्ला, रवि घोष, चुन्नीलाल साहू, प्रदेश उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, शहर अध्यक्ष प्रमोद नायक के साथ राजीव गांधी चौक से साइकिल रैली निकाली।

अंबेडकर चौक से ग्रामीण अध्यक्ष विजय केशरवानी ने ब्लाक अध्यक्षों के साथ रैली निकालकर साथ दिया। रैली पुराना बस स्टैंड, गांधी चौक, गोलबाजार, देवकीनंदन चौक होते हुए रिवर व्यू पहुंची। वहां कार्यक्रम में मरकाम ने मोदी सरकार पर कई आरोप लगाते हुए कहा कि या तो मोदी महंगाई दूर करे या फिर गद्दी छोड़े। लोग पछता रहे हैं। वे कह रहे हैं कि बहुत बड़ी गलती हो गई।

पुराने बस स्टैंड के पास

पुराने बस स्टैंड के पास ग्रामीण उपाध्यक्ष श्याम कश्यप, मरकाम को स्टेज पर ले जाना चाहते थे लेकिन तभी ग्रामीण अध्यक्ष केशरवानी ने मना किया तो कश्यप भड़क गए। इस दौरान विवाद हुआ।

मंच पर नहीं दिखे दोनों विधायक

संसदीय सचिव रश्मि सिंह एवं विधायक शैलेश पांडेय मंच पर नहीं दिखे। हालांकि दोनों राजीव गांधी चौक पर उपस्थित थे। बाद में प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों के पूछने पर मरकाम ने बताया कि उन्हें कुछ काम था इसलिए जल्दी चले गए।

अडाणी, अंबानी का भला कर रहे प्रधानमंत्री माेदी: अटल

प्रदेश उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने कहा कि मोदी केवल अडाणी, अंबानी का भला कर रहे। जब यूपीए सरकार थी और सिलेंडर 400 रुपए से 450 होता तो स्मृति ईरानी और अमित शाह हाय-तौबा मचाते थे, आज 900 रुपए हो गई। जो बोलता है, उसकी आवाज को दबा दिया जाता है।

कार्यक्रम में पूर्व विधायक चंद्रप्रकाश बाजपेयी, राजेंद्र शुक्ला, रविंद्र सिंह, अरुण सिंह चौहान, शेख नजीरुद्दीन, महेंद्र गंगोत्री, सीमा पांडेय, महेश दुबे, अभय नारायण राय, अनिता लवहात्रे, जावेद मेमन, सिद्धांशु मिश्रा, तैयब हुसैन, ऋषि पांडेय आदि मौजूद थे। वहीं राजीव गांधी चौक में संसदीय सचिव रश्मि सिंह, बिलासपुर विधायक शैलेश पांडेय, पूर्व मेयर वाणीराव आदि मौजूद थे।

रमन, धरम और अन्य नेता एक-दूसरे को पचा नहीं पा रहे- मरकाम

पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने छत्तीसगढ़ भवन में पत्रकारों से कहा कि वे भाजपा से पूछना चाहते हैं कि 15 साल में उन्होंने कितने वादे पूरे किए। हमारी सरकार ने तो 36 में से 24 वादे पूरे कर दिए। उनके समय गुजरात मॉडल की बात होती थी, अभी छत्तीसगढ़ मॉडल की बात हो रही है। नीति आयोग, रिजर्व बैंक और अन्य राज्यों की सरकार हमारे राज्य की तारीफ कर रही है।

चाहे रमन सिंह हो या धरमलाल कौशिक या अन्य भाजपा नेता, ये एक-दूसरे को पचा नहीं पा रहे हैं। 15 साल में उन्होंने कार्यकर्ताओं को उपेक्षित किया, नतीजा 14 सीटों में सिमट गए। ब्लाक अध्यक्ष द्वारा आरक्षक को गाली देने के मामले में मरकाम ने कहा कि प्रशासन ने कार्यवाही की है। पार्टी ने भी नोटिस दिया है। जवाब भी आ चुका है। चाहे कोई भी व्यक्ति हो, वह स्वयं क्यों न हो अनुशासन तोड़ता है तो उस कार्यवाही होगी।

हमारे कार्यकर्ता समझदार हैं

कार्यकर्ताओं का काम नहीं हो पाया है। अब उनकी आशाओं में खरे नहीं उतरे हैं लेकिन हमारे कार्यकर्ता समझते हैं कि सबका भला तो हमारा भी भला क्योंकि कांग्रेस पार्टी त्याग, तपस्या और बलिदान की पार्टी है। कार्यकर्ताओं ने 15 साल संघर्ष किया, लेकिन अपने लिए कुछ नहीं मांगा।

छत्तीसगढ़ की जनता के लिए संघर्ष किए। हमारी सरकार के कार्यकाल में भी हमारे साथी लगातार संघर्ष करते हैं, उन बातों को हम भी समझते हैं। अभी कोरोना काल खत्म होगा। कोशिश करेंगे कि हमारे कार्यकर्ताओं और संगठन की बात सरकार सुने।

खबरें और भी हैं...