दिवाली की रात कार सवार लुटेरों ने मचाया आतंक:बाइक सवार युवकों से कैश और मोबाइल लूटा, फिर डॉक्यूमेंट जांच के बहाने मारपीट कर पैसे छीन लिए

बिलासपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिलासपुर में कार सवार युवकों ने की लूटपाट(फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
बिलासपुर में कार सवार युवकों ने की लूटपाट(फाइल फोटो)

बिलासपुर में दिवाली पर्व की रात कार सवार युवक घूम-घूमकर आतंक मचाते रहे। इन युवकों ने पहले रतनपुर क्षेत्र के भैंसाझार के पास बाइक सवार युवकों से 8 हजार रुपए व मोबाइल लूट लिए। रिपोर्ट दर्ज कराने पर उन्हें जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकले। फिर इसी गिरोह ने सकरी के पास सब्जी लेकर मंडी आ रहे पिकअप सवार किसानों को धमकाते हुए लूटपाट की।

जानकारी के अनुसार कोटा क्षेत्र के उरमुरा में रहने वाले मुकेश कुमार राज बिलासपुर में एक निजी कंपनी में काम करता है। गुरुवार की रात 12 बजे वह छुट्टी लेकर अपने गांव जाने निकला था। उसके साथ गांव के ही रुपेश गोंड भी था। दोनों अभी भैंसझार चौक के पास पहुंचे थे। तभी कार सवार युवकों ने उन्हें ओवरटेक कर हाथ दिखाकर रोक लिए। बाइक रुकते ही कार सवार तीन युवकों ने उनके बैग के संबंध में पूछताछ की। इस बीच उन्होंने बैग को लूट लिया। फिर जाने लगे। मुकेश व उसके साथी के विरोध करने पर युवकों ने गाली-गलौज करने लगे। दोनों डर के कारण रतनपुर लौट रहे थे। तब युवकों ने उन्हें कार से उन्हें ठोकर मार दी। फिर उन्होंने थाने में​​ शिकायत करने पर जिंदा जला देने की धमकी दी और मोबाइल भी लूट लिए।

चेहरे में गमछा ढंके हुए थे लुटेरे

पीड़ित मुकेश ने पुलिस को बताया कि लूटपाट करने वाले युवक चेहरे को गमछे से ढंका हुआ था। वहीं, कार का चालक अपने हाथों से चेहरा छुपा रहा था। कार सवार युवकों के रतनपुर की ओर जाने पर मुकेश ने अपना रास्ता बदल दिया। इसके बाद वे दूसरे रास्ते से किसी तरह रतनपुर पहुंचे। फिर थाने में इसकी शिकायत की। उनकी रिपोर्ट पर पुलिस ने लूटपाट का मामला दर्ज कर लिया है।

दस्तावेज जांच के बहाने पिकअप सवार किसानों से की लूटपाट
सकरी क्षेत्र में वाहनों की जांच के बहाने युवकों ने सब्जी मंडी आ रहे किसानों से लूटपाट करने का भी मामला सामने आया। इस दौरान उनके साथ मारपीट करते हुए थाने में शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी भी दी गई। इस वारदात को भी कार सवार युवकों ने ही अंदाम दिया। मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले के खरमुंडी में रहने वाले राजकुमार हिरवानी ड्राइवर हैं। इसके साथ ही वे अपनी पिकअप से ट्रांसपोर्टिंग का भी काम करते हैं। वे छपारा के चावड़ाबाग स्थित फार्म हाउस से शिमला मिर्च लेकर बिलासपुर के सब्जी मंडी आ रहे थे। देर रात सकरी के नेमीचंद जैन अस्पताल के सामने चार युवकों ने उन्हें रोक​ लिया। दो युवकों ने उनके पास आकर वाहन के दस्तावेज दिखाने कहा। एक युवक ने उनके वाहन का दरवाजा खोलकर ​डेसबोर्ड से गाड़ी के दस्तावेज निकालकर फाड़​ दिए। राजकुमार व तुलाराम से मारपीट करते हुए करीब 5 हजार रुपए व मोबाइल लूट लिए।
112 के चालक को दी सूचना, तलाश में जुटी पुलिस
राजकुमार व तुलाराम इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने थाने जा रहे थे। तभी उन्हें डायल 112 की गाड़ी मिल गई। पीड़ित पुलिसकर्मियों को इस धटना की जानकारी दी। फिर बाद में थाने पहुंचकर इसकी शिकायत की। इस बीच पुलिस की टीम लुटेरों की पतासाजी करती रही। लेकिन, उनका कुछ पता नहीं चला।
कार की तलाश में जुटी पुलिस, अहम सुराग मिलने का दावा
रतनपुर के भैंसाझार चौक में कार क्रमांक CG10AY0992 के चालक व उसमें सवार अन्य युवकों के लूटपाट करने के बाद पुलिस जांच में जुट गई है। रतनपुर TI हरविंदर सिंह ने बताया कि कार के रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर लुटेरों की तलाश की जा रही है। उन्हें पकड़ने के लिए टीम अलग-अलग जगहों पर रवाना किया गया है। उन्होंने दावा किया कि शीघ्र ही लुटेरे पुलिस की गिरफ्त में होंगे। उन्होंने बताया कि लूट की दोनों ही वारदात में एक ही गिरोह के शामिल होने की आशंका है।

खबरें और भी हैं...