15 साल के लड़के की 2 दिन बाद मिली लाश:ट्रेनिंग के निकला था तब मां को मैसेज किया-मैं मर रहा हूं; फिर नदी में तैरता मिला शव

बिलासपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लड़का 10वीं का छात्र था। - Dainik Bhaskar
लड़का 10वीं का छात्र था।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में 2 दिन से लापता 15 साल के लड़के का शव नदी में तैरता हुआ मिला है। वो 2 दिन पहले कबड्‌डी की ट्रेनिंग लेने के लिए सुबह घर से निकला था। उस दौरान ही उसके नंबर से उसकी मां को मैसेज आया था कि मैं मर रहा हूं। इसके बाद से उसका कुछ पता ही नहीं चल रहा था। मामला तोरवा थाना क्षेत्र का है।

तोरवा इलाके में रहने वाला पीयूष जायसवाल कक्षा 10वीं का छात्र था। वो तोरवा के ही सरकारी स्कूल में पढ़ता था। उसके पिता अनिल जायसवाल किसी दुकान में काम करते हैं। पीयूष स्कूल में पढ़ाई के अलावा कबड्डी की ट्रेनिंग भी लिया करता था। 24 फरवरी को भी सुबह करीब 5 बजे ट्रेनिंग के लिए निकला था। इसके बाद सुबह 6 बजे उसकी मां सुमन के नंबर पर पीयूष के नंबर से मैसेज आया कि मां अब मैं मर रहा हूं। इस मैसेज के बाद ही उसके परिजन परेशान हो गए और उसकी तलाश करने लगे।

मैदान ही नहीं पहुंचा उस दिन

तलाश करने के बाद भी पीयूष का कुछ पता नहीं चला। परिजन ने उसके ट्रेनिंग सेंटर में भी पता किया, फिर भी पीयूष के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली। पता चला की वह ट्रेनिंग के लिए उस दिन मैदान में पहुंचा ही नहीं था। जिसके बाद परिजनों ने पूरे मामले की शिकायत पुलिस से की थी। पुलिस भी शिकायत दर्ज कर लड़के की तलाश कर रही थी। मगर उसका कुछ पता नहीं चल रहा था। इस बीच पुलिस को शनिवार सुबह सूचना मिली की किसी का शव तोरवा के देवरीडीह के पास अरपा नदी में किनारे तैर रहा है।

सूचना मिलती ही पुलिस की टीम मौके पर गई और शव को पानी से बाहर निकाला गया। तब शव की पहचान पीयूष जायसवाल के रूप में हुई। शव मिलने के बाद उसके परिजनों को भी इसकी सूचना दी गई। वहीं शव का पोस्टमॉर्टम भी कराया गया है। पुलिस का कहना है कि प्रथम दृष्यटता में ये मामला सुसाइड का ही लगा रहा है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। फिलहाल उसके परिजनों से भी पूछताछ जारी है। नाबालिग ने क्यों ऐसा कदम उठाया। इसका भी पता लगाया जा रहा है।