मालगाड़ी में सामान की तरह ढोकर लाए 300 मजदूर, VIDEO:NTPC ने विश्वकर्मा जयंती पर कोरबा से बुलाया था, इंजन और बोगी से लटके रहे

बिलासपुर3 महीने पहले

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से एक खतरनाक VIDEO सामने आया है। इसमें खुली मालगाड़ी में मजदूर सामान की तरह सफर करते नजर आ रहे हैं। यह नजारा सीपत स्थित NTPC का है, जिसमें विश्वकर्मा जयंती मनाने कोरबा से मजदूरों को मालगाड़ी में ढो कर लाया गया था। NTPC प्रबंधन की यह लापरवाही मजदूरों की जान पर भारी पड़ सकती थी।

सीपत NTPC में शनिवार को विश्वकर्मा जयंती पर इंजीनियरिंग विभाग में पूजा-अर्चना के साथ भंडारे का भी कार्यक्रम था। लिहाजा, इस आयोजन में ठेका कंपनी में काम करने वाले मजदूरों को भी बुलाया गया था। इसमें कोरबा के कोयला खदान एरिया दीपका से भी 300 से अधिक मजदूर पहुंचे थे। NTPC के जनसंपर्क अधिकारी प्रवीण रंजन भारती से उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क किया गया। लेकिन, उनसे संपर्क नहीं हो सका है।

जान जोखिम में डालकर इस तरह मालगाड़ी से पहुंचे थे मजदूर।
जान जोखिम में डालकर इस तरह मालगाड़ी से पहुंचे थे मजदूर।

कोरबा से मालगाड़ी में लाए गए मजदूर
NTPC प्रबंधन के इस आयोजन में ठेकेदारों के सुपरवाइजर और मजदूर भी शामिल हुए। कोरबा जिले के दीपका से ठेका श्रमिकों को खुली मालगाड़ी में सामान की तरह ढोकर लाया गया था। मजदूरों को इस सफर में जान का खतरा भी हो सकता था। विश्वकर्मा भगवान का शुक्र है कि सभी मजदूर सकुशल लौट गए और कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ।

इंजन और खुले डिब्बे में लटक कर विश्वकर्मा जयंती मनाने लाए गए थे श्रमिक।
इंजन और खुले डिब्बे में लटक कर विश्वकर्मा जयंती मनाने लाए गए थे श्रमिक।

मजदूरों की सफर का खतरनाक VIDEO
मजदूरों के खुली मालगाड़ी में सफर का VIDEO सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। इसमें मजदूर खुली मालगाड़ी में लटक कर बैठे नजर आ रहे हैं। मालगाड़ी में जान जोखिम में डालकर सफर करने वाले इस VIDEO को देखकर ही डर लग रहा है।

NTPC से कोरबा तक है अलग रेल लाइन
NTPC प्रबंधन ने रेलवे से अनुबंध कर कोरबा तक अपना अलग रेल लाइन बनाया है। इस रेलवे लाइन में कोयला ढुलाई के लिए सिर्फ मालगाड़ियां ही चलती है।