वैक्सीनेशन:ग्रामीण इलाकों में वैक्सीन का दूसरा डोज लगवाने नहीं आ रहे लोग

बिलासपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ग्रामीणों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करते हुए अधिकारी-कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
ग्रामीणों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करते हुए अधिकारी-कर्मचारी।
  • सिर्फ मस्तूरी में ही 3 हजार में से 1 हजार को लग पाई है दूसरी डोज, अफवाहों के कारण लोग डर रहे

जिले के ग्रामीण इलाकों में वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाने को लेकर लोग हिचक रहे हैं। सोशल मीडिया में फैलाए गए अफवाह और भ्रम की स्थिति की वजह से ऐसा हो रहा है। वैक्सीन की दूसरी डोज लगवानी जरूरी है इसके लिए पंचायत स्तर पर अफसर जाकर ग्रामीणों को समझा रहे हैं।

मस्तूरी जनपद के सीईओ कुमार सिंह के अनुसार 58 हजार लोगों को वैक्सीन की सिंगल डोज लग चुकी है जबकि 3 हजार लोगों को दूसरा डोज लेने का समय आ चुका है। इनमें से अब तक 1 हजार लोग ही वैक्सीन का दूसरा डोज लिए हैं। पर्याप्त संख्या में लोगों के नहीं आने की वजह सोशल मीडिया में वैक्सीन लगाने को लेकर फैलाई गई भ्रामक जानकारी है। वैक्सीन का पहला डोज लेने के बाद किसी-किसी को बुखार आने की वजह वैक्सीन से जोड़कर गलत जानकारी दी गई।

बिल्हा जनपद के सीईओ बीआर वर्मा के अनुसार ऐसे कुछ लोगों है जो वैक्सीन खुद नहीं लगवा रहे और दूसरे लोगों को बरगला रहे हैं। बिल्हा ब्लॉक में अब तक 52 हजार लोगों को वैक्सीन का पहला डोज लग चुका है जबकि दूसरे डोज लगवाने कम लोग आ रहे। ईओ वर्मा के अनुसार सही स्थिति तब ही स्पष्ट हो पाएगी।

सरपंच कह रहे दूसरा डोज लगवाने से डर रहे

लिमही ग्राम पंचायत के सरपंच देवेंद्र कश्यप के अनुसार पंचायत में 80 ग्रामीणों को वैक्सीन का दूसरा डोज लगना है लेकिन समझाने के बाद भी सिर्फ 15 ग्रामीण दूसरा डोज लेने के लिए गए। इसी तरह भुंडा पंचायत के सरपंच दिलीप पात्री के अनुसार जागरूक करने के बाद भी लोग टीका के लिए तैयार नहीं हो रहे। भुंडा में अभी दूसरा डोज लेने का समय नहीं आया है, जब आएगा तभी सही स्थिति का पता चलेगा।

सरपंचों के साथ अफसर भी जुटे जागरूकता लाने में

मस्तूरी जनपद के सीईओ कुमार सिंह ने पिछले दिनों वैक्सीन को लेकर फैले भ्रम के संबंध में सोन लोहरसी गांव का दौरा किया। वहां उन्होंने ग्रामीणों से चर्चा की और वैक्सीन के लिए उन्हें जागरूक किया। इसके अलावा पंचायतों के सरपंचों को जिम्मेदारी दी गई है कि वह लोगों को समझाएं और वैक्सीन का दूसरा डोज लेने के लिए उन्हें वैक्सीन सेंटर तक लाए।

खबरें और भी हैं...