बाेरियों में दो-दो किलो अधिक धान मिला:घुटकु के फड़ इंचार्ज हटाया गया, 25-25 सौ रुपए का जुर्माना

बिलासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला प्रशासन ने घुटकू धान खरीदी में कार्रवाई की। किसानों के अधिक धान लेने की शिकायत पर मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों ने बोरियों से नाप जोख कराई, जिसमें हर बोरी में 2-2 किलो धान अधिक निकला। उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं ने धान खरीदी से हटा दिया है।

दोनों पर 25- 25 सौ रुपए का जुर्माना भी लगाया। घुटकू धान खरीदी केंद्र में पहले दिन से ही अधिक धान लिया जा रहा था। विरोध करने पर फड़ इंचार्ज गणेश लोनिया अनसुना कर देता। किसानों ने इसकी शिकायत कलेक्टर सारांश मित्तर से की। कलेक्टर के निर्देश पर उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं मंजू पांडेय, तहसीलदार तृप्ति गबेल और नाप तौल विभाग के अधिकारी जांच करने के लिए मंगलवार को मौके पर पहुंचे थे। प्रशासनिक अधिकारियों के सामने नाप तौल विभाग के अफसरों ने नाप जोख की। जिला ग्रामीण अध्यक्ष भी पंहुचे मौके पर जिला ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी भी किसानों की शिकायत पर घुटकू धान खरीदी केंद्र पर पहुंचे थे। उन्होंने पूरे मामले की जानकारी कलेक्टर को दी।

फड़ इंजार्च ने कहा-किसान अपनी श्रद्धा से देते हैं धान
प्रशासनिक अफसरों के सामने फड़ इंचार्ज ने सभी आरोपों से इंकार किया। गणेश लोनिया ने बताया कि किसान अपनी श्रद्धा से डेढ़ दो किलो धान देते हैं। इसलिए हम लोग बोरी में ही धान छोड़ देते हैं।

अतिरिक्त धान नहीं देने पर मारपीट करने का आरोप
तुर्काडीह का किसान नारायण पटेल ने बताया कि एक दिन पहले घर से तौलकर 38 क्विटंल बेचने आया पर फड़ इंचार्ज ने प्रत्येक बोरी में दो किलो धान अतिरिक्त लिया।

खबरें और भी हैं...