'कांग्रेस के कार्यक्रम में BJP को घसीटना सही नहीं':धर्म संसद में कालीचरण पर CM भूपेश के बयान पर रमन का पलटवार; बोले- ये कांग्रेस का अंदरुनी मामला

बिलासपुरएक वर्ष पहले

छत्तीसगढ़ के राजधानी रायपुर में आयोजित धर्म संसद में हुए बवाल को लेकर सियासत तेज हो गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान पर पलटवार करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि धर्म संसद का आयोजन किसने किया, इसके आयोजक कौन थे, आयोजन में प्रमुख भूमिका कांग्रेस के सभी वरिष्ठ लोगों की थी। इसमें भाजपा को घसीटना उचित नहीं है।

सोमवार को तखतपुर पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि बापू पर टिप्पणी करना उचित नहीं है। धर्म संसद का आयोजन कांग्रेस का था और उनके वरिष्ठ लोग ही आयोजन में सक्रिय भूमिका में थे। फिर इसमें भाजपा का नाम घसीटना बिल्कुल उचित नहीं है। यह कांग्रेस की अंदरुनी राजनीति का नतीजा है।

विकास में फेल है कांग्रेस सरकार
डॉ. रमन ने कहा कि प्रदेशभर के विकास कार्य में सरकार पूरी तरह से फेल है। 3 सालों में केवल बड़े-बड़े पोस्टर छप रहें है और पोस्टर में खुशहाल छत्तीसगढ़ दिखा रहे हैं। लेकिन, न तो सड़क है और न ही स्कूल है। अस्पताल न पुलिया है। यहां रेत माफिया कोल माफिया और शराब माफिया ही सरकार चला रहे हैं।

CM बघेल ने भाजपा पर साधा था निशाना
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धर्म संसद के दौरान उठे मुद्दों और विवाद को लेकर भाजपा के नेताओं को पर निशाना साधते हुए कहा था कि महात्मा गांधी को खुले मंच से गाली दी गई। फिर भी भाजपा नेताओं की ओर से कोई बयान नहीं आया है। उन्होंने कहा था कि यह शांति प्रेम और भाईचारे की धरती है, जहां उत्तेजक व हिंसात्मक बातें कतई बर्दाश्त नहीं की जाएंगी।

खबरें और भी हैं...