पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अफवाहों का संक्रमण फैल चुका:गांवों में अफवाहों का संक्रमण, ‘मौत’ के डर से नहीं लगवा रहे ‘जिंदगी’ का टीका

बिलासपुरएक महीने पहलेलेखक: सुनील शर्मा
  • कॉपी लिंक
ग्राम लोखंडी व निरतू में ग्रामीण दहशत में। कोई भी टीका लगवाने के पक्ष में नहीं है। सभी मना कर रहे हैं। - Dainik Bhaskar
ग्राम लोखंडी व निरतू में ग्रामीण दहशत में। कोई भी टीका लगवाने के पक्ष में नहीं है। सभी मना कर रहे हैं।
  • ग्रामीणों से पूछा- यह कैसे कह रहे कि मौतें टीके की वजह से

ग्रामीण इलाकों में कोरोना से ज्यादा अफवाहों का संक्रमण फैल चुका है। लोग टीका लगने के बाद मौत होने की बात कहते हुए दूसरा डोज लगवाने से इंकार कर रहे हैं। गांव में हुई सामान्य मौत को वे टीका लगने की वजह से मौत होना बता रहे हैं लेकिन उनके पास इस बात का कोई प्रमाण नहीं है।

इधर 18 वर्ष से अधिक उम्र वालों को टीका लगना शुरू हुआ था लेकिन इसमें भी लोग ज्यादा रुचि नहीं ले रहे हैं। अभी तो टीका लगना बंद है लेकिन जब शुरू होगा तो इतनी जल्दी लोग टीका पर भरोसा कर पाएंगे यह कहना मुश्किल है। ग्रामीण इलाकों से दूसरा डोज लगवाने से इनकार और विरोध करने की खबरों के बीच दैनिक भास्कर ने कुछ गांवों में जाकर हाल जाना। यह पता चला कि गांवों में हुई सामान्य मौतों की वजह से अफवाह फैला है। वहीं यह भी पता चला कि जिनकी मौत हुई है,उनमें से कई झोलाछाप डॉक्टर से इलाज करवा रहे थे। पढ़िए रिपोर्ट-

दूसरे डोज के साथ ही 18 वर्ष से ज्यादा वाले भी नहीं ले रहे रुचि

लोखंडी: ग्रामीण बोले मर रहे लोग, नहीं लगवाएंगे
ग्राम पंचायत लोखंडी के शत्रुघ्न ने कहा कि दूसरा डोज का समय हो चुका है लेकिन कोई भी ग्रामीण नहीं लगवाना चाहते। पहले तो अधिकांश को बुखार आया। राम अवतार, पवन, कृष्णा की मौत टीका लगने के बाद हुई है। जब उनसे पूछा गया कि इस बात का क्या प्रमाण है तो उसने कहा कि ऐसा सुना हूं। सुखवंतीन ने कहा कि सभी कह रहे हैं कि दूसरा डोज नहीं लगवाएंगे, वह अकेले नहीं लगवाएगी। शिवचंद निर्मलकर के मुताबिक टीका लगने के बाद 1 हफ्ते तक बुखार आया और अस्पताल में भर्ती होना पड़ा।

तुर्काडीह: मौत की बात से डरे हुए हैं ग्रामीण
ग्राम तुर्काडीह के शिवकुमार के मुताबिक टीका लगने के बाद उसे न बुखार आया न कमजोरी लगी। वह दूसरा डोज लगवाना चाहता है लेकिन ऐसा सुनने में आ रहा है कि टीका लगने के दूसरे दिन लोग खत्म हो जा रहे हैं। इससे वह डरा हुआ है।

निरतु: 18 प्लस वाले किसी ने नहीं लगवाया टीका
निरतु में 18 प्लस में किसी ने वैक्सीन नहीं लगवाया। सरपंच केदार पटेल का कहना है कि लोग दूसरे गांव नहीं जाना चाहते। यहां लगेगा तब लगवाएंगे बोल रहे हैं। वहीं दूसरा डोज लगवाने को लेकर अफवाह है। पता नहीं कैसे लोगों में ये डर बैठ गया।

सीएम बोले-वैक्सीन को लेकर जागरूकता बढ़ाएं
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कहा कि मितानिन, पटवारी, रोजगार सहायक एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के माध्यम से जागरूकता लाएं। खासकर महिलाओं को कोरोना के बारे में समझाएं। ग्रामीण कोविड के लक्षणों को जानते समझते नहीं हैं।

वैक्सिनेशन ही स्थाई समाधान है
सरपंच, सचिव, पटवारी, स्वास्थ्य मितानिन, रोजगार सहायकों के माध्यम से ग्रामीणों को लगातार बता रहे हैं कि वैक्सिनेशन ही स्थाई समाधान व अत्यावश्यक है। ग्रामीण अफवाह पर ध्यान न देते हुए टीका लगवाएं। अब और जागरूक करेंगे।
-डॉ. सारांश मित्तर,कलेक्टर, बिलासपुर

खबरें और भी हैं...