थोक व्यापारी बोले:सुबह 5 से 9 बजे तक कारोबार करने के लिए प्रशासन छूट दे तभी दुकानें खोली जाएंगी

बिलासपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लॉकडाउन के दौरान रात को 11 से सुबह 5 बजे तक दुकान खोलने और व्यापार करने के लिए प्रशासन द्वारा दी गई। इसको लेकर व्यापार विहार में व्यापारियों की बैठक हुई है। इसमें व्यापारियों द्वारा छूट के समय को पूरी तरह अव्यावहारिक और असुरक्षित कहा जा रहा है। व्यापार विहार एसोसिएशन के सदस्य देवीदास वाधवानी व अन्य व्यापारियों ने कहा कि अगर प्रशासन उन्हें सुबह 5 बजे से 9 बजे या दोपहर 12 बजे तक का समय देती है तो वह इस दौरान अपनी दुकानें खोलकर व्यापार करने की बात पर सहमत हो सकते हैं।

लिहाजा व्यापारियों ने कहा कि वे रात को दुकानें नहीं खोलेंगे और 30 अप्रैल तक व्यापार विहार की सभी दुकानें बंद रखी जाएंगी। यदि प्रशासन इस बीच व्यापारियों की बातों पर गौर नहीं करता तब दुकानें बंद रखने का निर्णय और आगे तक बढ़ाया जा सकता है। व्यापारियों ने कहा कि बिलासपुर में यह पहला मौका है जब व्यापारियों को इस तरह लगभग आधी रात से लेकर सुबह 5 बजे तक व्यापार करने के लिए प्रशासन के द्वारा कहा जा रहा है।

व्यापारियों का कहना है कि रात को दुकानें खोलकर व्यापार विहार में व्यवसाय करना किसी भी तरह से सुरक्षित और व्यावहारिक नहीं है। इसलिए व्यापारियों ने एकमत से प्रशासन द्वारा रात को दुकान खोलने के लिए दी गई छूट को नकार दिया है। व्यापारियों का साफ कहना है कि समय कोरोना वायरस लेकर पूरे शहर की तरह व्यापारियों के परिवारों में भी भय और दहशत का वातावरण है।

ऐसे समय में व्यापारियों का रात के समय घर में ना रहना किसी भी तरह से व्यापारिक नहीं कहा जा सकता। वहीं रात को अगर माल धक्के की होलसेल दुकानें खुली रहती हैं, तो पूरे जिले से कौन व्यापारी हैं, जो रात को बिलासपुर आकर लेनदेन की पहल करेगा और उनकी सुरक्षा कौन करेगा।

खबरें और भी हैं...