पुलिस ने संयुक्त रूप से की कार्रवाई:26.60 लाख रु की चांदी की सिल्ली व तांबे का चूरा बरामद, अवैध रूप से खपाने के लिए रखे थे

बिलासपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पकड़े गए आरोपियों के साथ पुलिस अधिकारी। - Dainik Bhaskar
पकड़े गए आरोपियों के साथ पुलिस अधिकारी।

गोंड़पारा में 25 लाख 40 हजार रुपए की 40 किलो चांदी की सिल्ली और 1 लाख 20 हजार रुपए का 40 किलो तांबे का चूरा बरामद हुआ। दोनों पॉलिथीन में रखे गए थे। पुलिस ने इनकी कीमत 26 लाख 60 हजार रुपए बताई है। सिविल लाइन व सिटी कोतवाली पुलिस ने यह कार्रवाई संयुक्त रूप से की। पुलिस ने इस मामले में गोंड़पारा निवासी नवनाथ एवले 33 वर्ष विजय सालोखे 41 वर्ष को गिरफ्तार किया है।

पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि गोड़पारा, गलाई गली में नवनाथ एवले अपने शिव साही सिल्वर रिफाइनरी फैक्ट्री में अवैध रूप से कच्ची चांदी रखा हुआ है। पुलिस ने वहां दबिश देकर तलाशी ली। नवनाथ एवले के घर से 40 किलो चांदी की सिल्ली मिली। इसकी कीमत करीब 25 लाख 40 हजार रुपए है। इसी तरह यहां से करीब 4 क्विंटल तांबे का चूरा मिला। इसकी कीमत 1 लाख 20 हजार रुपए बताई जा रही है। दोनों आरोपियों के पास से कोई वैध दस्तावेज पेश नहीं किए जा सके। पुलिस को दिए बयान में विजय सालाोखे ने बताया कि वह अपने पार्टनर नितिन उर्फ ब्रम्ह देव के साथ मिलकर कुछ कच्ची व सोना को उसके दुकान में रखा है। आरोपी नवनाथ एवले व विजय सालोखे के कब्जे से 40 किलो चांदी सिल्ली के रूप में तथा 4 क्विंटल तांबा का चूर्ण जब्त किया गया। दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में नितिन कदम उर्फ ब्रम्हदेव कदम गोंड़पारा फरार है। कार्रवाई में एएसपी सिटी उमेश कश्यप, टीआई शीतल सिदार, एसआई मनीष कांत, एएसआई विजय शर्मा, कांस्टेबल गोकुल जांगड़े शामिल थे।

माल खपाने वालों की पहचान की जा रही-एसपी
एसपी दीपक झा के अनुसार व्यापारी बिना बिल व रसीद के ही जेवरों की गलाई कर रहे हैं। ऐसे व्यापारियों की पहचान की जा रही है। उन्हें हिदायत भी दी जा रही है कि चोरी का माल गलाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...