पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पसीने की कमाई उड़ा ले गए चोर:उधारी लेकर, जेवर गिरवी रखकर, बीमार मां को अस्पताल ले जाने खरीदी थी बाइक, चोर ले गए

बिलासपुर14 दिन पहलेलेखक: चंद्रकुमार दुबे
  • कॉपी लिंक
  • पांच साल में करीब 1500 बाइक शहर से हुईं चोरी, चोरों कुछ तो रहम करो, तुम एक मिनट में जो गाड़ी चुराते हो, वह लोगों की कई महीने की खून, पसीने की कमाई होती है

पेट काटकर, उधारी लेकर,जमीन-जेवर गिरवी रखकर, बच्चों के स्कूल जाने के लिए,बीमार मां को अस्पताल ले जाने के लिए बाइक खरीदी थी। जिसे चोर ले गए। जिनकी गाडिय़ां चोरी हुई हैं वे मुसीबत झेल रहे हैं। कोई ऑटो-बस से सफर कर रहा, कोई लिफ्ट लेकर जा रहा है तो किसी का काम धाम ही बंद हो गया है।

सभी परेशान हैं। शहर से हर रोज औसतन तीन गाडिय़ां चोरी हो रही है। एक-दो हजार पाने के लिए चोर लोगों की 50 हजार से 1 लाख रुपए तक की गाड़ियों को कबाड़ में खपा रहे हैं। पिछले 5 साल में करीब 1500 बाइक चोर ले गए, इनमें से आधी भी बरामद नहीं हुई।

बहन जॉब करने जाती थी, मां को अस्पताल ले जाते थे, अब परेशानी
29 जनवरी की शाम 6 बजे सरकंडा नूतन चौक रामकृष्ण इन्क्लेव निवासी पवन मोटवानी पिता संतोष मोटवानी 22वर्ष की स्कूटी मगरपारा के एक नर्सिंग होम से चोरी हो गई। ये गाड़ी उनकी बहन कोमल मोटवानी की थी। इसमें वे जॉब करने जाती थी। छोटी बहन स्कूल जाती थी और पवन इससे अपनी मां को अस्पताल लेकर जाते थे। पवन के अनुसार अभी गाड़ी नहीं मिली है। उनके पास दूसरी गाड़ी खरीदने का बजट नहीं है। इसलिए सभी ऑटो रिक्शा से सफर कर रहे हैं।

पहली सेलरी से खरीदी बेटा कॉलेज जाता था
सिविल लाइन निवासी मनीष कुमार पिता देव शैनल कुमार 26वर्ष पीजीडीसीए का छात्र है। उनके पिता पुलिस में है। 28 जनवरी 2021 की रात छग स्कूल ग्राउंड में मैच देखने गया था। आधे घंटे में वापस आया तो उसकी बाइक गायब थी। मनीष ने बताया कि गाड़ी को उनके पापा अपनी पहली सैलरी से खरीदी थी। इसी से ड्यूटी जाते थे।

हर माह 2 से 3 हजार रुपए बचाया, तब खरीदी थी
चिंगराजपारा सुभाष चौक निवासी राहुल देवांगन पिता रमेश देवांगन 18 वर्ष सब्जी बेचते हैं। 12 जनवरी की शाम 6.30 बजे बाइक से बृहस्पति बाजार आए थे। सब्जी बेचने चले गए तो रात 9.30 बजे लौटकर आए तो गाड़ी गायब थी। ये गाड़ी पेट काटकर खरीदी थी। हर माह 2-3 हजार रुपए इसके लिए जोड़ते थे। इससे सब्जी लाते ले जाते थे। अब ऑटो-रिक्शा से आना-जाना हो रहा है।

पत्नी के जेवर बेचकर लिया था, काम छूटा
सरकंडा चांटीडीह निवासी रामरतन तिवारी पिता जीवधन तिवारी 38 वर्ष एक कंपनी के सेल्स एजेंट है। बाइक 12 दिसंबर को सिम्स के स्टैंड से चोरी हो गई। पत्नी के जेवर बेचकर खरीदी थी। इसी जॉब पर जाता थे और मां को इलाज के लिए अस्पताल ले जाते थे। बाइक चोरी होने के कारण वे काम पर नहीं जा पा रहे है।

जिले में वाहन चोर सक्रिय रोज चुरा रहे गाड़ियां
अगर आप अपना वाहन मार्केट या घर के बाहर ऊपर वाला लॉक लगाकर खड़ा कर किसी काम से निकल रहे हैं तो जरा सावधान रहिए। जिले में वाहन चोर गिरोह सक्रिय है। रोजाना औसतन तीन बाइक चोरी होती है। कई बार तो दिन में चार पांच बाइक चोरी हो जाती हैं। पिछले पांच सालों में 1500 बाइक चोरी हो चुके हैं।

वाहन चोरों को पकड़ा टीम काम कर रही:एसपी
एसपी प्रशांत अग्रवाल ने कहा कि वाहन चोरी रोकने पर पुलिस पूरा फोकस कर रही है। उन्होंने कहा कि वाहन चोरी रोकने के लिए स्पेशल टीम गठित की है। कई वाहन चोरों को पकड़ा भी है। फरवरी में ही तीन वाहन चोरों को काबू किया साथ ही उनकी निशानदेही पर 6 चोरी की बाइक पुलिस ने बरामद की थी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें