थाने में महिला ने तोड़ा दम:पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया था थाने, अचानक तबीयत बिगड़ी और हो गई मौत, सरकारी नल पर कब्जे की शिकायत में थी आरोपी

बिलासपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महिला के परिजन से पुलिस पोस्टमार्टम को लेकर चर्चा कर रही है, ताकि मौत के कारणों का पता लग सके। तस्वीर तखतपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की है। - Dainik Bhaskar
महिला के परिजन से पुलिस पोस्टमार्टम को लेकर चर्चा कर रही है, ताकि मौत के कारणों का पता लग सके। तस्वीर तखतपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की है।
  • परिजन के सामने ही महिला ने तोड़ा दम

गांव में महिलाओं के आपसी झगड़े को सुलझाने के लिए पुलिस ने एक महिला को थाने में बुलाया। पूछताछ के लिए कुछ देर बैठाया, तभी महिला की तबीयत बिगड़ गई। घर वालों के साथ उसे अस्पताल भेजा गया। यहां डॉक्टरों ने कह दिया- आई एम सॉरी। चिकित्सकों की बात सुन परिवार के लोग हैरान रह गए, दोबारा पूछने पर अस्पताल प्रबंधन ने साफ तौर पर कह दिया कि महिला की मौत हो चुकी है। यह पूरा मामला बिलासपुर के तखतपुर थाने से जुड़ा हुआ है।

बेटे के साथ पहुंची थी थाने, उसी के सामने मौत
बिलासपुर के तखतपुर थाने में तिहारीन मरावी नाम की महिला ने एक शिकायत दर्ज कराई थी। तिहारीन के मुताबिक गांव की लक्ष्मीन बाई, अनीता और विमला के साथ मिलकर सरकारी नल पर कब्जा किए बैठी है। इन तीनों ने मिलकर नल में पंप लगा लिया था और जब इन्हें मन करता नल का उपयोग करती थीं। जब तिहारीन नल का उपयोग करने के लिए जाती तो उसे गाली देकर भगा दिया जाता था। इसी मामले में पुलिस ने लक्ष्मीन बाई से पूछताछ करने के लिए उसे थाने बुलाया था।

58 साल की लक्ष्मीन भाई अपने बेटे बलीराम के साथ थाने पहुंची थी। साथ में गांव का कोटवार भी था। पुलिस उससे कुछ पूछताछ कर ही रही थी कि तभी उसने कहा कि उसकी तबीयत ठीक नहीं है। तबीयत बिगड़ती देख लक्ष्मीन बाई के बेटे और कोटवार ने उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा। अभी डॉक्टर कुछ समझ ही पाते तब तक महिला की मौत हो गई, अचानक इस परिस्थिति में हुई मौत के बाद एक नई गुत्थी पुलिस के सामने है कि आखिर महिला की मौत कैसे हुई। इस मामले में फिलहाल छानबीन जारी है ।