• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • The Drug Addicted Daughter Used To Run Away From Home, Was Beaten Up By Tying Her In A Cot, The Incident Was Hidden For Fear Of Going To Jail

पिता ही निकला 12 साल के बेटे का हत्यारा:घर से भाग जाता था नशेड़ी बेटा तो खाट में बांधकर बेरहमी से पीटा

बिलासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

बिलासपुर में तीन माह पहले हुई 12 साल के बालक की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। दरअसल, बालक नशे का आदि हो गया था और बिना बताए घर से भाग जाता था। उसकी हरकतों से तंग आकर पिता ने उसे खाट में बांध कर उसकी बेरहमी से पिटाई की थी। इसके बाद उसकी मौत हो गई थी। जेल जाने के डर से आरोपी व उसके परिजन इस घटना को छिपा रहे थे। पुलिस ने जांच के बाद आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है। मामला सकरी थाना क्षेत्र के ग्राम लोखंडी का है।
शिवा धृतलहरे (40) मूलत: मुंगेली जिले के फास्टरपुर चौकी का रहने वाला है। वह लोखंडी के रामघाट में परिवार सहित रहता था और ऑटो चलाकर जीवन गुजारा करता है। उसका छोटा बेटा जेक्स धृतलहरे (12) पांचवी कक्षा में पढ़ता था। जेक्स नशे का आदी हो गया था 16 जुलाई को वह बिना बताए घर से भाग गया था। इस पर शिवा ने अपने बड़े बेटे जेम्स धृलहरे को उसे पकड़कर लाने के लिए भेजा। इसके बाद उसे खाट में बांध कर डंडे से पिटाई की। इसके बाद वह ऑटो चलाने के लिए चला गया। इस बीच जेक्स की तबीयत बिगड़ गई और वह अचेत हो गया। तब उसे CIMS ले जाया गया। CIMS में जांच के बाद डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। उसके शव का PM कराया गया, तब डॉक्टर ने रिपोर्ट में गहरे जख्म लगने से उसकी मौत होने की पुष्टि की। इस पर पुलिस हत्या का अपराध दर्ज कर जांच कर रही थी। जांच के दौरान परिजन इस घटना की सच्चाई को छिपा रहे थे। पुलिस ने मोबाइल कॉल डिटेल की जांच की, तब आरोपी पिता ने अपराध स्वीकार किया। इस पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।
पिता भी हो गया था घायल, इसलिए संशय में थी पुलिस
थाना प्रभारी प्रसाद सिन्हा ने बताया कि बालक की तबीयत बिगड़ने की खबर सुनकर ऑटो चालक पिता अपने घर लौट रहा था। तब रास्ते में उसका एक्सीडेंट हो गया था। इस पर उसे भी इलाज के लिए CIMS में भर्ती कराया गया था। परिजन इस मामले की सच्चाई छिपा रहे थे। इसके चलते पुलिस जांच में उलझी हुई थी। मोबाइल कॉल डिटेल्स व लोकेशन के साथ ही PM रिपोर्ट की क्वेरी कराने के बाद पुलिस ने संदेही पिता को पकड़कर पूछताछ की। तब वह टूट गया और अपराध कबूल किया।
नशेड़ी बेटे की हरकतों से परेशान था परिवार
आरोपी शिवा ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसका परिवार छोटे बेटे की हरकतों से परेशान था। वह नशे का आदी हो गया था और बिना बताए घर से गायब हो जाता था। यही वजह है कि उसकी पिटाई की गई। तब उसकी तबीयत बिगड़ गई। पूछताछ में मृतक जेक्स की मां ने भी अपने पति को बचाने के लिए पुलिस को झूठ बोल दिया था। उसने बताया था कि घटना के समय ऑटो चालक शिवा घर में नहीं था। लेकिन, मोबाइल की जांच के बाद पता चला कि वह घर में था और शाम को ऑटो चलाने निकला था।
PM रिपोर्ट से खुला राज
पुलिस के अनुसार मृतक की मां ने अपने बयान में उसके खाली पेट होने की जानकारी दी थी। लेकिन, जब PM रिपोर्ट आया, तब उसकी क्वेरी कराई गई तो पता चला कि मृतक बालक के पेट में अधपचा चावल था। इस पर पुलिस को परिजनों के बयान पर संदेह हुआ और सभी से अलग-अलग पूछताछ की गई। तब हत्या का राज खुला।

खबरें और भी हैं...