छत्तीसगढ़ में ठंड से पहली मौत:बिलासपुर में रात भर फुटपाथ पर कांप रहा था बुजुर्ग; राहगीरों ने अस्पताल पहुंचाया, नहीं बच सकी जान

बिलासपुर5 महीने पहले
बेघर लोग ठंड में फुटपाथ पर रात गुजारने को मजबूर हैं। (फाइल फोटो)

बिलासपुर में ठंड का कहर शुरू हो गया है। रविवार की रात रतनपुर बाइपास रोड में एक बुजुर्ग ठंड से कांप रहा था, जिसे देखकर राहगीरों ने अस्पताल पहुंचाया। उसकी गंभीर हालत को देखकर CIMS रेफर किया गया, लेकिन बुजुर्ग ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। इस प्रकार छत्तीसगढ़ से पहली मौत हो गई है। डॉक्टरों ने भी ठंड से उसकी मौत होने की आशंका जताई है और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

शहर के साथ ही ग्रामीण इलाकों में ठंडी हवाओं से शीतलहर शुरू हो गई है। पिछले दो दिन से ठंड का पारा सामान्य से नीचे गिर गया है। मौसम विभाग ने भी तापमान में गिरावट के साथ शीतलहर की संभावना जताई है। शनिवार और रविवार को सर्द हवाओं से जनजीवन अस्त-व्यस्त रहा।

इधर, रविवार की रात रतनपुर बाइपास रोड में करीब 70 वर्षीय बुजुर्ग ठंड से कांप रहा था। उसे खुले आसमान के नीचे देखकर राहगीरों ने इलाज के लिए रतनपुर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। जहां, उसकी गंभीर हालत को देखते हुए CIMS अस्पताल रेफर कर दिया गया, लेकिन CIMS पहुंचने से पहले ही उसने दम तोड़ दिया। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारण का पता चल सकेगा।

नहीं हो पाई पहचान
CIMS ने इस घटना की जानकारी पुलिस CIMS चौकी को दी थी। पुलिस ने रतनपुर थाने से संपर्क कर बुजुर्ग की जानकारी जुटाई, लेकिन बुजुर्ग की पहचान नहीं हो पाई है। इसके चलते CIMS चौकी पुलिस ने शव को मोर्चुरी में रखवा दिया है। मंगलवार को उसका पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा। डॉक्टरों का कहना है कि PM रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का स्पष्ट कारण पता चल सकेगा।

प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में इन दिनों सुबह इस तरह के कोहरे छा जाते हैं।
प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में इन दिनों सुबह इस तरह के कोहरे छा जाते हैं।

रायपुर में एक दिन में 7.5 डिग्री गिरा तापमान:प्रदेश शीतलहर की चपेट में, सोमवार सुबह लाभांडी में 5 तो माना में 8.4 डिग्री सेल्सियस तक गिरा पारा

और बढ़ेगी ठंड

प्रदेश में उत्तर भारत से आ रही बर्फीली हवा के कारण उत्तरी और मध्य छत्तीसगढ़ को पूरी तरह चपेट में लिया है और शीतलहर चल रही है। इसी के चलते बिलासपुर के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। इस समय सरगुजा संभाग में कड़ाके की सर्दी है। कोरिया जिले में न्यूनतम तापमान 3.3 डिग्री पर पहुंच गया। अंबिकापुर से जशपुर और पेंड्रा तक तापमान 4 से 5 डिग्री के बीच पहुंच गया है।

रायपुर में भी पिछले साल की अपेक्षा इस साल काफी ठंडी है। इसी कड़ी में प्रदेश के ज्यादातर शहरों में सोमवार की सुबह कड़ाके की ठंड महसूस की गई थी। ज्यादातर इलाकों में न्यूनतम तापमान सामान्य से 5 से 6 डिग्री नीचे पहुंच गया था। मौसम विशेषज्ञों ने अगले 24 घंटे के दौरान रात में ठंड और बढ़ने का पूर्वानुमान जारी कर दिया है।

खबरें और भी हैं...