नगरीय प्रशासन विभाग ने स्वीकृत किए 7 करोड़:समस्याएं दूर करने के लिए पैसे की नहीं होगी कमी, बारिश में पानी भरने की समस्या से मिलेगी मुक्ति

बिलासपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
समस्याएं दूर करने के लिए पैसे की नहीं होगी कमी - Dainik Bhaskar
समस्याएं दूर करने के लिए पैसे की नहीं होगी कमी

राज्य सरकार ने नगर निगमों के विकास के लिए खजाना खोल दिया है। सीएम भूपेश बघेल की घोषणा पर अमल करते हुए नगरीय प्रशासन विभाग ने बिलासपुर नगर निगम के लिए 7 करोड़ रुपए स्वीकृत कर दिए हैं। मेयर रामशरण यादव का कहना है कि अब वार्डों की छोटी-मोटी समस्याओं को निपटाने के लिए बजट की कमी आड़े नहीं आएगी।

मुख्यमंत्री बघेल ने बीते 31 मार्च को नगरीय निकायों में अधोसंरचना विकास के लिए राशि देने की घोषणा की थी, जिस पर नगरीय प्रशासन विभाग ने अमल शुरू कर दिया है। पहले चरण में नगरीय प्रशासन विभाग ने पहली बार नगर निगम में वार्डवार राशि स्वीकृत की है। बिलासपुर नगर निगम की बात करें तो हर वार्ड के हिस्से में 10-10 लाख रुपए आए हैं। निगम में 70 वार्ड हैं। इस हिसाब से बिलासपुर नगर निगम को 7 करोड़ रुपए मिले हैं।

वार्ड 25-26 में नहीं होगी पानी की समस्या
वार्ड क्रमांक 25 और 26 में अब पानी की समस्या नहीं होगी। मेयर रामशरण यादव और शेख नजीरुद्दीन ने मंगलवार को बोर का उद्घाटन कर पानी का स्वाद चखा और बोर को जनता के हवाले कर दिया। भीषण गर्मी में वाटर लेवल गिरने के कारण वार्ड क्रमांक 25 और 26 में पानी की समस्या खड़ी हो गई थी।

तिफरा क्षेत्र में अब नहीं भरेगा पानी
बरसात के सीजन में बाढ़ के कारण यदुनंदन नगर, तिफरा, कुंदरापारा आदि क्षेत्र शहर से कट जाता है। इस समस्या से निपटने के लिए नगर निगम प्रशासन 3 करोड़ 34 लाख रुपए की लागत से 1700 मीटर तक नाले का निर्माण करा रहा है।

खबरें और भी हैं...