प्रशासन सहमत, लोग भी अपना अतिक्रमण हटाने तैयार:ट्रैफिक की बाधा दूर होगी; स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से चौड़ी होगी मरीमाई रोड, बन रहा इस्टीमेट

बिलासपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लिंक रोड पर अक्सर जाम लगते हैं, ट्रैफिक डायवर्ट करने के लिए मरीमाई रोड के विकल्प पर काम शुरू हो गया है। - Dainik Bhaskar
लिंक रोड पर अक्सर जाम लगते हैं, ट्रैफिक डायवर्ट करने के लिए मरीमाई रोड के विकल्प पर काम शुरू हो गया है।

लिंक रोड पर जाम और रेंगने वाले ट्रैफिक को स्मूद करने के लिए ‘दैनिक भास्कर’ द्वारा उ‌ठाए गए मरीमाई बाइ पास रोड के चौड़ीकरण के मुद्दे को इम्पैक्ट हासिल हो गया है। लिंक रोड के ट्रैफिक को मरीमाई बाइ पास रोड पर शिफ्ट करने संबंधी भास्कर की खबर पर संज्ञान लेकर बिलासपुर स्मार्ट सिटी प्रबंधन रोड के चौड़ीकरण के लिए न केवल सहमत है बल्कि उसने होम वर्क करना शुरू कर दिया है।

प्रारंभिकतौर पर टेंडर कराने के लिए इस्टीमेट बनाया जाएगा। मरीमाई रोड में ये सुविधाएं रहेंगी : स्मार्ट सिटी प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार मरीमाई रोड के चौड़ीकरण के साथ ही रोड के दोनों ओर फुटपाथ और निकासी के लिए नाली का निर्माण कराया जाएगा। पूरी रोड का रिनीवल कोड होगा। इसके अतिरिक्त दोनों स्ट्रीट लाइटें लगाई जाएंगी। पूरी सड़क के निर्माण में 70 -80 लाख रुपए तक खर्च होने का अनुमान है। इस्टीमेट जल्द ही तैयार होगा।

स्मार्ट सिटी रोड चौड़ीकरण के लिए तैयार
राजस्व रिकार्ड में मरीमाई रोड 40 फुट की है पर अतिक्रमण के चलते मौके पर इसकी चौड़ाई घट कर आधी रह गई है। रोड के चौड़ीकरण से व्यापार विहार, श्रीकांत वर्मा मार्ग पं दीनदयाल उपाध्याय चौक से मगरपारा चौक पहुंचना आसान होगा। स्मार्ट सिटी के एमडी, सीईओ, निगम कमिश्नर अजय कुमार त्रिपाठी ने ‘दैनिक भास्कर’ को बताया कि मरीमाई रोड का चौड़ीकरण स्मार्ट सिटी की योजना में शामिल कर लिया गया है। जरहाभाठा में पद्मश्री पं श्यामलाल चतुर्वेदी स्मार्ट सिटी रोड और इमलीपारा रोड की तरह मरीमाई रोड का विकास किया जाएगा। स्मार्ट रोड के कार्य के अंतिम चरण में काम्पैक्ट सब इस्टेशन का कार्य जारी है। वहीं इमलीपारा रोड के एप्रोच को 80 फुट चौड़ा करने के लिए 8.95 करोड़ का टेंडर किया जा चुका है।

खबरें और भी हैं...