पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लापरवाही:चार साल में दो सर्वे, बावजूद नहीं बदली नालियों से गुजरी पाइप लाइनें

बिलासपुर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लिंगियाडीह में डायरिया फैलने के बाद मई में सर्वे कराया गया, 13096 मीटर पाइप लाइन नालियों से गुजरी पाईं गईं

सूर्यकान्त चतुर्वेदी | 31 अप्रैल से 3 जून के बीच लिंगियाडीह गांव में उल्टी, दस्त की शिकायत के बाद निगम प्रशासन ने शहर भर की ऐसी पाइप लाइनों का सर्वे कराया, जो नाले, नालियों के बीच से गुजरीं हैं। ऐसी पाइप लाइनों से सप्लाई होने वाले पानी के प्रदूषित होने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक 13096 मीटर पाइप लाइनें जहां पीवीसी तथा जीआई, सीआई पाइप हैं, की शिफ्टिंग की जरूरत बताई गई। 82 जगहों पर लीकेज की मरम्मत की जानी थी। हैरत की बात है कि चार महीने बीतने के बावजूद नाले, नालियों के बीच से गुजरी हुई पाइप लाइनों को बदलने का काम नहीं हो पाया। लीकेज की मरम्मत जरूर करने का दावा नल जल विभाग कर रहा है।

इन जगहों पर नालियों से गुजरी पाइप लाइनें
नाले, नालियों के बीच से गुजरी एसी, प्लास्टिक और जीआई पाइप लाइन शहर के करबला, कुम्हारपारा, तालापारा, मगरपारा, जरहाभाठा, तिलक नगर, कुदुदंड, कतियापारा, राजकिशोर नगर, मोपका, बिजौर, परसाही, बहतराई, कोनी, मोपका, लिंगियाडीह आदि स्थानों में हैं। यह बरसों पुरानी हैं। इन्हें नगर निगम और पीएचई ने बिछाया है।

4 बार बदली पाइप लाइनें, राहत नहीं
सीवेज के लिए चल रही खुदाई के दौरान चर्चित मामला दो साल पहले सामना आया। विद्यानगर में पेयजल की 4-4 लाइनें पाई गईं। जाहिर है कि शहर में 20 वर्षों में कम से कम चार बार पाइप लाइनें बदली जा चुकी हैं। 80 करोड़ की जल आवर्धन योजना साल 2013-14 में रिवाइज की गई तो पाइप लाइन बदलने का खर्च मिलाकर लागत 110 करोड़ पहुंच गई। इसके बाद 2017 में 301 करोड़ की अमृत मिशन योजना लागू हो गई। जल आवर्धन योजना के पूर्व गर्मियों में जरूरत के मुताबिक हर साल पाइप लाइनें बदली जाती रहीं, परंतु इन सबके बावजूद नाले, नालियों के बीच से गुजरी पाइप लाइनों से शहरवासियों को मुक्ति नहीं मिली। कोरोना संक्रमण के दौर में जब बार बार हाथ धोने की हिदायत दी जा रही, पीने के लिए साफ पानी की सप्लाई तो सुनिश्चित होनी ही चाहिए। पर ऐसा नहीं है।

सीधी बात
अजय श्रीवासन, ईई नल जल विभाग

सवाल - नाले, नालियों के बीच से गुजरी पाइप लाइनें नहीं बदली गईं?
-इसके लिए इस्टीमेट तैयार हो रहा है। अमृत मिशन योजना के अंतर्गत 82 किलोमीटर पाइप लाइनें बदली जानी हैं। इनमें एसी, जीआई पाइप शामिल हैं। इससे कई जगह पाइप लाइन बदलने की जरूरत नहीं पड़ेगी।
सवाल - साल 2017-18 में तालापारा में डायरिया की शिकायत पर कितनी पाइप लाइन का सर्वे हुआ, कितना काम बाकी है?
- निगम और पीएचई के सर्वे में पुराने बिलासपुर में 3.5 किमी पाइप लाइनें बदली जानी थी। 2 किमी बदली जा चुकी हैं।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें