• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Bilaspur
  • VIDEO Of Manager Arrested With Molly Drug, Said Ankit Agarwal Used To Sell Intoxicants In The Washroom Of Geography Club By Giving Five Hundred Notes

भूगोल बार के मैनेजर का ड्रग्स केस में नया VIDEO:कहा-अंकित अग्रवाल वॉशरूम में बिकवाता था, बदले में उसे सिगरेट,शराब और 500 रुपए मिलते

बिलासपुर5 महीने पहले
भूगोल बार के मैनेजर ने VIDEO में ड्रग पार्टी का राज उगला है।

बिलासपुर में ड्रग्स केस में गिरफ्तार भूगोल बार के मैनेजर का एक नया VIDEO सामने आया है। इसमें वह कह रहा है कि अंकित अग्रवाल भूगोल बार में ड्रग पार्टी अरेंज कराता था और उसके जरिए MDMA ड्रग बिकवाता था। इसके एवज में वह मैनेजर को अलग से टिप भी देता था। पुलिस ने करीब एक सप्ताह पहले ही मैनेजर को हाईप्रोफाइल मौली ड्रग के साथ पकड़ा था। बताया जा रहा है कि बार में ड्रग पार्टी का यह अवैध कारोबार मई माह से चल रहा था। पुलिस को भी इसकी जानकारी थी, पर कार्रवाई नहीं की गई।

चकरभाठा पुलिस और एंटी क्राइम एंड कंट्रोल यूनिट (ACCU) की टीम ने कुछ दिन पहले होटल-ढाबों की जांच कर रही थी। उसी दौरान मैग्नेटो माल स्थित भूगोल बार के मैनेजर MP के रीवा निवासी योगेश द्विवेदी उर्फ राम (23) को मौली ड्रग के साथ गिरफ्तार किया था। तब दैनिक भास्कर ने बताया था कि ड्रग बेचने के इस अवैध कारोबार में बार चलाने वाले अंकित अग्रवाल की भूमिका संदिग्ध है। पुलिस ने अंकित को भी मैनेजर के साथ पकड़ा था, लेकिन पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया।

भूगोल बार में ड्रग पार्टी का नया खुलासा हुआ है।
भूगोल बार में ड्रग पार्टी का नया खुलासा हुआ है।

मैनेजर बोला-बार में अंकित कराता था ड्रग पार्टी
मौली ड्रग के साथ गिरफ्तार योगेश द्विवेदी का एक VIDEO भी सामने आया है, जिसमें वह बोल रहा है कि अंकित अग्रवाल और मुन्ना गुप्ता भूगोल बार में ड्रग पार्टी अरेंज कराते थे। बार के वॉशरूम में वह मैनेजर के माध्यम से युवक-युवतियों को मौली ड्रग परोस रहा था। मैनेजर योगेश द्विवेदी बोल रहा है कि बार में ड्रग बेचने के लिए उसे सिगरेट, शराब के साथ ही 500 रुपए कमीशन दिया जाता था। हालांकि अंकित और मुन्ना को क्या मिलता था, इसकी जानकारी नहीं है।

भूगोल बार में पहले ही रेड मार चुकी है पुलिस की टीम (फाइल फोटो)।
भूगोल बार में पहले ही रेड मार चुकी है पुलिस की टीम (फाइल फोटो)।

TI बोले- सिविल लाइन पुलिस का पार्ट है
हाईप्रोफाइल ड्रग मौली के साथ पकड़े जाने के बाद चकरभाठा पुलिस ने आरोपी मैनेजर योगेश द्विवेदी पर FIR दर्ज की है, पर अंकित के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। चकरभाठा TI मनोज नायक का कहना है कि मौली ड्रग सप्लाई करने वाले पैडलर्स की जानकारी जुटाई जा रही है। भूगोल बार में ड्रग पार्टी का मामला उनके अधिकार क्षेत्र से बाहर का है। उन्होंने कहा कि बार सिविल लाइन थाना क्षेत्र में आता है। ऐसे में सिविल लाइन ही ड्रग पार्टी के संबंध में जांच कर सकती है।

भूगोल बार में पार्टी के बहाने युवक-युवती करते हैं शराबखोरी।
भूगोल बार में पार्टी के बहाने युवक-युवती करते हैं शराबखोरी।

बड़े होटलों में चलती है ड्रग्स पार्टी
मिथाइल एनिडियोक्सी मेथामफेटामाइन (MDMA) को आम तौर पर एक्सटसी या मौली के रूप में जाना जाता है। मौली एक मनो सक्रिय दवा है, जो मुख्य रूप से मनोरंजक उद्देश्यों के लिए उपयोग की जाती है। आमतौर पर इस ड्रग्स का इस्तेमाल बड़े होटलों में आयोजित ड्रग्स पार्टी में किया जाता है। अभी तक रायपुर में इस तरह की पार्टी की जानकारी मिली थी। लेकिन, बिलासपुर में ड्रग पार्टी का राज पहली बार खुला है। बावजूद इसके पुलिस इस गंभीर केस में लीपापोती कर बार चलाने वाले अंकित अग्रवाल को बचाने में लगी हुई है।

विवादों से रहा है भूगोल बार का नाता

इससे पहले भी भूगोल बार चर्चा में रहा है। यहां आए दिन हंगामा व मारपीट की घटनाएं होती रही है। पांच-छह माह पहले पुलिस अधिकारियों की पार्टी के दौरान भूगोल बार में विवाद हो गया था। यहां बाउंसरों और महिला डीएसपी के पति के साथ विवाद हो गया था। इसके बाद देर रात शराब परोसे जाने का भी मामला सामने आया था। तब पुलिस अफसरों ने कार्रवाई की बात कही थी, हालांकि इसमें आगे कुछ नहीं हुआ।

खबरें और भी हैं...