GPM में 50% छात्रों के साथ ही खुलेंगे स्कूल:2 स्कूलों के प्रिंसिपल, 2 स्टूडेंट्स के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन ने जारी किए आदेश

पेंड्रा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) जिले में कोरोना संक्रमण फिर बढ़ रहा है। इतना ही नहीं जिले के स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र भी संक्रमित हो रहे है। वहीं प्रिंसिपल दंपती भी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। जिसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी ने जिले के सभी स्कूलों के लिए निर्देश जारी किया है। अभी तक 100 फीसदी उपस्थिति के साथ स्कूल खुल रहे थे। यह प्रदेश का पहला ऐसा जिला है जिसने एक बार फिर छात्रों की संख्या आधी कर दी है।

निर्देश के अनुसार सोमवार से अब जिले के सभी स्कूल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलेंगे। यानि सोमवार से स्कूल में 50 प्रतिशत बच्चे ही पढ़ने आएंगे। इसके अलावा स्कूलों में कोविड गाइडलाइन का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए हैं। निर्देश में डीईओ ने स्कल प्रबंधनों से कहा है कि एक रोस्टर बनाए। जिसके अनुसार बच्चों को पचास प्रतिशत क्षमता के साथ ही स्कूल बुलाया जाए। स्कूलों में कोविड गाइडलाइन के तहत जरूरी व्यवस्था भी करें। इधर, एक ही दिन में 4 मरीजों के मिलने के बाद प्रशासन की चिंता और बढ़ गई है। शनिवार को 4 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।

संभावित तीसरी लहर आ चुकी है

जिले में यदि पिछले 3 दिनों की बात की जाए तो 6 कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। कलेक्टर भी कह चुकी हैं कि जिले में संभावित तीसरी लहर आ चुकी है। इसी वजह से जिले में रविवार से और सख्ती बरती जा रही है। जिले में रविवार से मास्क नहीं पहनने, नियमों को नहीं मानने वालों पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है। साथ ही हाट बाजार में भी कार्रवाई शुरू की गई है। शनिवार से प्रशासन ने जिले में मुनादी का काम शुरू किया है। प्रशासन ने कोरोना टेस्टिंग, टारगेट बेस्ट टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के काम को भी सख्ती से करने के निर्देश दिए हैं।

सोमवार से अब हर स्कूल में 50 प्रतिशत ही बच्चे आएंगे।
सोमवार से अब हर स्कूल में 50 प्रतिशत ही बच्चे आएंगे।

दिल्ली से लौटे थे दंपती

दरअसल, पिछले दिनों पेंड्रा ब्लॉक के एक प्राइवेट स्कूल, गौरेला ब्लॉक के सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। दोनों स्कूलों के प्रिंसिपल पति-पत्नी हैं। वह कुछ दिन पहले ही दिल्ली से लौटे थे। इसके बाद उनके दोनों बच्चों के भी सैंपल लिए गए हैं। उनकी रिपोर्ट निगेटिव है। दंपती कुछ दिन पहले दिल्ली से लौटे थे।

CG के स्कूलों में बढ़ी चिंता:बलरामपुर में 6वीं की 2 छात्राएं हुईं संक्रमित, स्कूल को किया गया बंद; कोरबा में टीचर निकला कोरोना पॉजिटिव

5 दिन में 4 छात्र संक्रमित हुए

वहीं पेंड्रा ब्लॉक के ही एक स्कूल की 7वीं क्लास की छात्रा और एकलव्य हॉस्टल के 8वीं क्लास का छात्र कोरोना पॉजिटिव मिला। जिसके बाद हॉस्टल में रहने वाले अन्य छात्रों का भी टेस्ट कराया गया। राहत की बात यह रही कि बाकी के 187 छात्रों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इन सब के अलावा बुधवार को बलरामपुर में भी 2 छात्राओं की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। कोरबा में भी पिछले दिनों एक टीचर पॉजिटिव मिला था।

जिले में कोरोना

जिले में अगर कोरोना संक्रमण की स्थिति की बात की जाए तो अब तक जिले में 12018 कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। जबकि 146 लोगों की जान गई है। वहीं 11866 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं। इस प्रकार जिले में एक्टिव केस 6 है। परेशान करने वाली बात ये है कि 4 दिसंबर को अकेले 4 मरीज मिले हैं। 3 और 2 दिसंबर को 1-1 मरीज मिले थे। प्रदेशभर में भी कोरोना के आंकड़े पिछले दिनों के मुकाबले ज्यादा आए हैं। शनिवार को आई रिपोर्ट में 44 लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं।

खबरें और भी हैं...