सूरजपुर से लापता गल्ला व्यापारी का मैनेजर:लावारिस मिली कार से हड़कंप,18 लाख रुपए का कलेक्शन करके लौट रहा था अंबिकापुर

सूरजपुर/अंबिकापुर3 दिन पहले

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले से गल्ला व्यापारी का मैनेजर लापता हो गया है। 18 लाख रुपए का कलेक्शन करके व्यापारी सूरजपुर से अंबिकापुर लौट रहा था। इस दौरान रास्ते से लापता हो गया। गुरुवार रात से उसका अब तक कुछ पता नहीं चल सका है। शुक्रवार को लावारिस हालत में उसकी गाड़ी मिली है। मामला जयनगर थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, अंबिकापुर में सुभाष अग्रवाल गल्ला बेचने का काम करते हैं। वह गल्ला आस-पास के जिलों में भी बेचते हैं। इसी के चलते सुभाष का मैनेजर मनोज बंसल गुरुवार को दिन में ही पैसा कलेक्शन करने के लिए अंबिकापुर से सूरजपुर गया था। यहां उसने सूरजपुर के अलग-अलग इलाकों से कुल 18 लाख रुपए कलेक्शन किया था। इस बात की जानकारी सुभाष को भी थी।

मौके पर पुलिस की टीम पहुंची थी।
मौके पर पुलिस की टीम पहुंची थी।

बताया जा रहा है कि शाम के वक्त सुभाष से उसकी बात भी हुई थी, तब मनोज ने उसे बताया था कि वह कलेक्शन करके वापस लौट रहा था। फिर उसके कुछ ही देर बाद रात से ही उसका नंबर बंद आने लगा था। सुभाष ने उससे कई बार बात करन की कोशिश की। लगातार फोन बंद होने के चलते किसी का कोई संपर्क नहीं हुआ।

शशिपुर के पास मिला मोबाइल लोकेशन

फोन बंद आने और मैनेजर के लापता होने के बाद सुभाष ने सूरजपुर पुलिस को इस बात की जानकारी दी थी। खबर मिलने के बाद से ही पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। इसी दौरान शुक्रवार को मनोज की गाड़ी सूरजपुर जिले के एनएच-43 में शशिपुर के पास उसकी लावारिस हालत में मिली है।

गाड़ी का पता चलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची थी। कार को जब्त किया गया है। पुलिस ने मनोज के लापता होने का केस दर्ज कर लिया है, और मामले की जांच में जुटी है। पुलिस ने बताया है कि मनोज का आखिरी मोबाइल लोकेशन शशिपुर में ही मिला है।