पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विवाद:ग्रामीणों व पुलिस में झड़प, ग्रामीणों ने कहा- पुलिस ने खुद वर्दी फाड़कर आग लगाई, आरोप हम पर लगा रहे

सूरजपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस ने बताया कि कोयला चोरी रोकने पर ग्रामीणों ने की मारपीट, आगजनी भी की, ग्रामीण भी लगा रहे आरोप

जिले की पुलिस का आए दिन विवादों का सामना होता है। हाल ही देश के सर्वश्रेष्ठ थानों की लिस्ट में टॉप फाइव की लिस्ट में शामिल होने वाले झिलमिली थाने से सामने आया है। जहां ग्रामीणों ने पुलिस पर कोयला चोरी में शामिल होने और विरोध करने पर ग्रामीणों के साथ मारपीट कर केस दर्ज करने का आरोप लगाया है। इसके साथ ही ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस ने खुद अपनी वर्दी फाड़ी और वाहनों में आग लगाकर ग्रामीणों पर आरोप लगा दिया। पुलिस की कार्रवाई से नाराज ग्रामीणों ने कलेक्टोरेट का घेराव कर जमकर प्रदर्शन किया। वहीं पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वह कोयला तस्करी की सूचना पर कार्रवाई करने गए थे। जहां ग्रामीणों ने उनके साथ मारपीट की है। पुलिस ने गांव के सरपंच सहित सात ग्रामीणों के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार झिलमिली थाना क्षेत्र में अवैध कोयला तस्करी जोरों पर की जा रही है। इसी बात को लेकर बड़सरा गांव निवासी ग्रामीणों व पुलिस के बीच झड़प हो गई। इसमें पुलिस ने वर्दी फाड़ने, मारपीट करने, ट्रैक्टर व पुलिस वाहन में आगजनी कर तोड़-फोड़ करने के आरोप में गांव के सरपंच सहित सात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। वहीं सरपंच सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस बात को लेकर सरपंच समेत अन्य लोगों के खिलाफ बिना जांच के कार्रवाई होने पर ग्रामीण महिला व पुरुष समेत सैकड़ों लोगों ने कलेक्ट्रेट का घेराव कर सड़क पर धरना शुरू कर दिया। इसके साथ ही ग्रामीण सरपंच को रिहा करने की मांग करने लगे। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि बड़सरा सरपंच जग नारायण सिंह से झिलमिली थाना प्रभारी चित्रलेखा साहू रंजिश रखती हैं। इससे पहले भी वह शराब की कार्रवाई को लेकर टारगेट बनाकर रखी थीं। इसके बाद कभी ना कभी किसी मामले में फंसाने की धमकी देती रही हैं। पुरानी रंजिश को लेकर पुलिस ने मनगढंत कहानी बनाई और ग्रामीणों को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस पर लगाया मारपीट का आरोप
ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस ने सरपंच समेत पांच लोगों को आरोपी बनाकर 6 जनवरी को गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान पुलिस ने वर्दी का रौब दिखाते हुए बक्सर निवासी भारत सिंह की बेदम पिटाई कर दी। पुलिस की मार से भारत सिंह की तबीयत काफी बिगड़ चुकी है। जिसके कंधे समेत गर्दन में गंभीर चोट लगी हैं। जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ग्रामीणों के अनुसार पीड़ितों को काफी चोटें आईं हैं। पुलिस ने उनके साथ बर्बरता दिखाते हुए सुलूक किया है।

पांच ग्रामीणों को किया गिरफ्तार, दो फरार
पुलिस ने अपनी शिकायत में बताया कि ग्रामीणों की मारपीट के बाद स्थिति नियंत्रण से बाहर होने पर सभी पुलिसकर्मी जंगल की ओर भाग गए और जंगल से मोबाइल के माध्यम से थाने में सूचना दी। इस दौरान आरोपी ग्रामीणों जगनारायण, जायप्रकाश, मोहन सिंह, भारत सिंह, बलजीत सिंह, सुनम प्रताप और प्रदीप सिंह ने पुलिस की गाड़ी की बैक लाइट, मडगार्ड और बंफर को डंडा मारकर तोड़ दिया। इसके लिए पुलिस ने ट्रैक्टर के ड्राइवर शिवम सिंह, लेबर रामाधीन बंजारे, पंचू बजारे, नंदू यादव और शांतनु सिंह को गवाह बनाया।

पुलिस ने बताई यह कहानी
पुलिस ने पीड़ित बनकर केस दर्ज किया है। इसमें बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि बस्कर जंगल में अवैध रूप से कोयला रखा हुआ है। इसके लिए वह ग्राम खाड़ापारा, डालाबहरा की ओर रवाना हुए। इसी दौरान ग्राम बस्कर के जंगल में गोठान के पास स्थित तालाब के पास लावारिस हालत में कोयला पड़ा हुआ था। कुछ देर में वहां पर जगनारायण सिंह, जयप्रकाश, मोहन सिंह, भारत सिंह, प्रदीप सिंह हाथ में डंडा लेकर और बलजीत, सुनम प्रताप आने हाथ में टांगी लेकर आ गए और गाली-गलौज करने लगे। इसके साथ ही आरोपी कहने लगे कि कोयला कैसे ले जा रहे हो हम लोग रखे हैं। देखते हैं कैसे लेकर जाओगे। यह कहकर ग्रामीणों ने जान से मारने की धमकी देते हुए कहा कि इन्हें मारकर खत्म कर दो। यह कहकर ग्रामीणों ने मारपीट की।

गामीण बोले- पुलिस खुद करवा रही कोयला चोरी
ग्रामीणों ने बताया कि 5 जनवरी को सहायक उप निरीक्षक लवकुश राजवाड़े, प्रधान आरक्षक हितेश्वर राजवाड़े, आरक्षक नीलेश जायसवाल, भीमेश आर्मो, भूपेंद्र दुबे बक्सर जंगल में अवैध कोयला चोरी करवाने गए हुए थे। जिसकी सूचना ग्रामीणों को हुई तो वह लोग विरोध करने लगे। इस पर पुलिस ने वर्दी की धौंस दिखाकर ग्रामीणों से मारपीट शुरू कर दी। इसी दौरान पुलिस ने अपने वर्दी खुद फाड़ कर अपने वाहन में तोड़-फोड़ कर आग लगा दी। इसके साथ ही अवैध कोयले से भरे ट्रैक्टर में भी आग लगाने का प्रयास किया। इस दौरान भारत सिंह के घर पर बड़सरा सरपंच नारायण सिंह को एक पालतू सूअर की चोरी के मामले में पूछताछ के लिए बुलाया। ग्रामीणों ने बताया कि हम लोगों ने कोई मारपीट नहीं की है।

पुलिस अधीक्षक के आश्वासन पर माने ग्रामीण
घेराव करने पहुंचे ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस ने मन माफिक कहानी बताई है। घेराव के बाद पुलिस अधीक्षक ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि मामले की पुनः जांच कर कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक राजेश कुकरेजा ने कहा कि ग्रामीणों का आरोप निराधार है। ऐसा कुछ नहीं हुआ है। सभी ग्रामीण पुलिस को फंसाने का काम कर रहे हैं। हमारी ओर से किसी भी मामले में त्वरित संज्ञान लेकर कार्रवाई की जाती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें