नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा विधानसभा में भेंट-मुलाकात:पहली बार कटेकल्याण पहुंचे सीएम भूपेश पांचवीं डैनेक्स कपड़ा यूनिट का एमओयू

दंतेवाड़ा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डैनेक्स फैक्ट्री की महिलाओं से बात करते सीएम। - Dainik Bhaskar
डैनेक्स फैक्ट्री की महिलाओं से बात करते सीएम।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दो दिनों के दंतेवाड़ा प्रवास पर हैं। सोमवार को दंतेवाड़ा के सबसे पिछड़े ब्लॉक कटेकल्याण और बारसूर नगर पंचायत में सीएम भूपेश बघेल की चौपाल लगी। कटेकल्याण क्षेत्र के लोगों के लिए पहला मौका रहा जब सीएम उनके गांव में ही उनके बीच पहुंचे। सीएम को देखने और सुनने यहां ग्रामीणों की भीड़ जुटी।

कटेकल्याण में लोगों के बीच पहुंचने से पहले यहां डैनेक्स गारमेंट की चौथी यूनिट का शुभारंभ किया। इसके अलावा छिंदनार की गारमेंट फैक्ट्री की पांचवी यूनिट का भी एमओयू हुआ। यह एमओयू डैनेक्स एफपीओ और एक्सपोर्ट हाउस तिरपुर के बीच हुआ जो तमिलनाडु के कोयंबटूर में होल सेल की देश की सबसे बड़ी यूनिट में से एक है।

मुख्यमंत्री ने महिलाओं को बधाई देते हुए कहा कि दंतेवाड़ा में आप लोगों का नवाचार देशभर में विख्यात है। अब कटेकल्याण यूनिट के माध्यम से भी इसका काम आगे बढ़ेगा। उन्होंने यह भी कहा कि डैनेक्स यूके और यूएस में भी बेस्ट बनेगा। इस मौके पर अपने बीच मुख्यमंत्री को पाकर उनसे ऑटोग्राफ भी महिलाओं ने चाहा, मुख्यमंत्री ने जैसे ही ऑटोग्राफ दिए, यूनिट की महिलाओं में खुशी छा गई।

सीएम ने महिलाओं से ढेंकी चावल की ली जानकारी
महिलाएं ढेंकी से चावल निकालने का काम कर रही हैं। मुख्यमंत्री ने ढेंकी चावल भी देखा। अधिकारियों ने बताया कि परंपरागत रूप से ढेंकी से ही चावल निकाला जाता था, जिससे चावल के पौष्टिक गुण बचे रहते थे। मुख्यमंत्री ने इस पर खुशी जताते हुए कहा कि जैविक खेती के जो प्रयोग प्रदेशभर में हो रहे हैं। उनमें दंतेवाड़ा जैसी जगहों के लिए और भी अच्छे अवसर हैं क्योंकि यहां की जमीन पहले ही वन भूमि होने की वजह से काफी ऊर्वर है। सीएमने कहा कि दंतेवाड़ा में जो नवाचार हो रहे हैं वे यहां प्राकृतिक परिवेश के अनुकूल हैं।

पार्वती ने कहा- इस बार इंग्लैंड तक भेजने वाले हैं यहां का मुहआ, सीएम बोले- आपको भी घूमने भेजेंगे
एक छोटे से संवाद ने कटेकल्याण की पार्वती की इंग्लैंड का दौरा कंफर्म कर दिया। कटेकल्याण की महिला पार्वती मोरे ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से कहा कि आपका बहुत धन्यवाद, आपके वनोपज संग्रहण का उचित मूल्य दिए जाने का लाभ हम सबको हुआ है। इस बार हम लोग महुआ इंग्लैंड तक भेजने वाले हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा क्या बात है। फिर मुख्यमंत्री ने पूछा कि क्या तुम भी इंग्लैंड जाना चाहती हो।

युवती के उत्साह से भरे चेहरे को देखकर मुख्यमंत्री ने कहा कि तुम्हें भी इंग्लैंड भेजेंगे। पार्वती ने मुख्यमंत्री को बताया कि विभिन्न समूहों के माध्यम से 40 हजार क्विंटल महुआ एकत्रित हुआ है। सरकार की संग्राहकों को राहत देने की नीति से लोगों में काफी खुशी है। इन महुआ संग्राहक महिलाओं की खुशी से भरी बातचीत ने मुख्यमंत्री को बहुत खुश कर दिया। उन्होंने जैसे ही सुना कि महुआ इंग्लैंड जा रहा है तो उन्होंने कह दिया, क्या बात है।

जिले की 67 देवगुड़ियों के कालाकल्प का लोकार्पण
मुख्यमंत्री ने सांसद दीपक बैज को डैनेक्स की बनी शर्ट भी गिफ्ट की। सीएम ने कटेकल्याण में दंतेश्वरी माता मंदिर में पूजा अर्चना कर प्रदेश और क्षेत्रवासियों की खुशहाली की कामना की। उन्होंने मंदिर परिसर में जिले की 67 देवगुड़ियों के कायाकल्प का लोकार्पण किया। आदिवासी संस्कृति के संरक्षण और उनके आस्था के केन्द्रों को सहेजने के उद्देश्य से राज्य शासन द्वारा 6 करोड़ 70 लाख रुपए की लागत से इन देवगुड़ियों के सौन्दर्यीकरण और परिसर के विकास कराया गया है।

ये घोषणाएं कीं

  • ​​​​​​कटेकल्याण में मिनी स्टेडियम की घोषणा।
  • कटेकल्याण में बिजली सब स्टेशन खुलेगा।
  • बारसूर के बड़े तुमनार को उप तहसील बनेगा।
  • कौरगांव में 30 सीटर अस्पताल भवन।
  • दंतेवाड़ा शहर में महिला थाना का निर्माण होगा।
खबरें और भी हैं...