दंतेवाड़ा में पुलिस-नक्सली मुठभेड़:4 घंटे तक चला ऑपरेशन, माओवादी कैंप ध्वस्त, कई नक्सलियों के घायल होने का दावा, नहीं लौटी फोर्स

दंतेवाड़ा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में पुलिस और नक्सलियों के बीच करीब 3 से 4 घंटे तक रुक-रुक कर मुठभेड़ हुई है। बताया जा रहा है कि ऑपरेशन पर निकले DRG के जवानों ने नक्सलियों को घेर लिया था। नक्सलियों के कई बड़े कैडर्स के साथ जवानों की मुठभेड़ हुई है। फिलहाल मुठभेड़ अभी बंद हो गई है। ग्रामीणों की आड़ में नक्सली भाग गए हैं। जवानों ने नक्सलियों के कैंप को भी ध्वस्त कर दिया है।

घटना स्थल की सर्चिंग में कई जगह खून के और घसीटकर ले जाने के निशान मिले हैं। पुलिस ने मुठभेड़ में कई नक्सलियों के घायल होने का दावा किया है। मामले की पुष्टि दंतेवाड़ा के SP सिद्धार्थ तिवारी ने की है।

जानकारी के मुताबिक, दंतेवाड़ा जिले के अरनपुर थाना क्षेत्र के मुलेर और गोंडेरास के जंगलों में भारी संख्या में नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना पर गुरुवार की रात जवान ऑपरेशन पर निकले थे। मुखबिर की दी गई पुख्ता सूचना के अनुसार जवान नक्सलियों के कोर इलाके में जा घुसे। शुक्रवार की सुबह जवानों को देख माओवादियों ने भी फायर खोल दिया था। जिसके बाद DRG जवानों ने भी मोर्चा संभाला और नक्सलियों की गोलियों का मुंहतोड़ जवाब दिया है।

करीब 2 से 3 अलग-अलग जगहों से जवानों ने नक्सलियों को घेर रखा था। दंतेवाड़ा के SP सिद्धार्थ तिवारी ने दैनिक भास्कर को बताया कि मलांगेर एरिया कमेटी के नक्सलियों के साथ जवानों की मुठभेड़ हुई है। कई घंटे तक ऑपरेशन चला है फोर्स अभी लौटी नहीं है।