समीक्षा बैठक:कलेक्टर ने कहा गणितीय और भाषाई प्रगति का शिक्षक करें आंकलन

धमतरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार हुए बैठक में उपस्थित कलेक्टर पीएस एल्मा,  जिला शिक्षा अधिकारी और शिक्षा विभाग के अन्य अफसर। - Dainik Bhaskar
मंगलवार हुए बैठक में उपस्थित कलेक्टर पीएस एल्मा,  जिला शिक्षा अधिकारी और शिक्षा विभाग के अन्य अफसर।

कलेक्टर पीएस एल्मा ने मंगलवार को जिला शिक्षा अधिकारी और विभाग के अन्य अफसरों के साथ बैठक की। उन्होंने स्कूल शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान निपुण धमतरी के तहत कक्षा पहली से आठवीं तक के हर विद्यार्थी का गणितीय और भाषाई ज्ञान के साथ ही उसके सीखने के स्तर का आंकलन निरंतर करते रहने को कहा। उन्होंने कहा कि स्कूल शिक्षा विभाग की अनेक फ्लैगशिप योजना है। उनकी प्रगति की तत्काल पोर्टल में एंट्री करें। उन्होंने समग्र शिक्षा के प्रोग्रामर को पोर्टल एंट्री के लिए नोडल के रूप में कार्य करने कहा।

समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने कहा कि जिले के स्कूलों में मूलभूत अधोसंरचना जैसे पेयजल, शौचालय, विद्युतीकरण, फर्नीचर, विद्यार्थियों के दर्ज संख्या के हिसाब से शिक्षकों की उपलब्धता इत्यादि की जानकारी सभी संकुल समन्वयकों को अनिवार्य रूप से होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि स्कूलों की कमियां अथवा समस्याओं की जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी सहित विकासखंड शिक्षा अधिकारी और विकासखंड स्त्रोत समन्वयक को होनी चाहिए तभी उनका हल वे कर पाएंगे।

कलेक्टर एल्मा ने शिक्षा विभाग से जुड़े अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं के आधार पर फिर से एजेंडा तैयार करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को दिए। इस मौके पर शिक्षा विभाग की फ्लैगशिप योजनाओं सहित शिक्षा सत्र 2021-22 के परीक्षा परिणामों की भी कलेक्टर ने समीक्षा की। साथ ही हर स्कूल में संकुल समन्वयक और संकुल प्राचार्य को नियमित बैठक लेकर स्कूलों में अधोसंरचना, शिक्षकों की नियमित उपस्थिति, स्कूलों की सतत मॉनिटरिंग आदि सुनिश्चित करने के निर्देश उन्होंने बैठक में दिए। इस अवसर पर जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रियंका महोबिया सहित स्कूल शिक्षा विभाग और संबद्ध विभाग के अधिकारी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...