रेप केस में फंसाने की धमकी दी तो मार डाला:युवकों ने पहले महिला से शारीरिक संबंध बनाया, फिर हत्या कर बोरे में भरकर फेंका शव

भिलाई5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हत्या मामले में गिरफ्तार आरोपी - Dainik Bhaskar
हत्या मामले में गिरफ्तार आरोपी

दुर्ग जिले के नेवई थाना क्षेत्र के मरोदा स्टेशन के पास बोरे में बंद मिली लाश मामले की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की जांच में पता चला है कि महिला के कई लोगों से शारीरिक संबंध थे। वह दो लोगों को पैसों के लिए ब्लैकमेल कर रही थी और न देने पर रेप मामले में फंसाने की धमकी दे रही थी। इसके चलते महिला की हत्या की गई है।

सीएसपी नसर सिद्दकी ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 24 जून को शिवपारा स्टेशन मरोदा मंगल भवन के पास स्थित सार्वजनिक शौचालय के सेप्टिक टैंक बोरी में बंद एक महिला की लाश मिली थी। महिला की पहचान भाना बाई साहू (40 साल) निवासी शिवपारा स्टेशन मरोदा शीतला तालाब के पास थाना नेवई जिला दुर्ग के रूप में हुई थी। शव पंचनामा दौरान मृतिका के सिर में कई जगह चोटों के निशान थे। आरोपियों का पता लगाने के लिए नेवई पुलिस ने मृतिका के घर आने जाने वाले व्यक्तियों से पूछताछ शुरू की। इस दौरान पता चला कि उसके पड़ोस में रहने वाले सोनू नेताम उर्फ झोल्टा (18 साल) से उसका पुराना विवाद था। पुलिस ने सोनू से जब पूछताछ की तो उसने अपने साथी जशवंत देशलहरे उर्फ जान (19 साल) के साथ मिलकर हत्या करना स्वीकार किया। उसने बताया कि भाना बाई सोनू को ब्लैकमेल कर रही थी कि वह उसे रेप के मामले में फंसा देगी। 17-18 जून की दरम्यानी रात वह अपने दोस्त के साथ भाना बाई के घर गया था। तीनों ने बैठकर शराब पिया और शरीरिक संबंध भी बनाए थे। इसी दौरान पुरानी बात को लेकर उनके बीच विवाद हुआ। सोनू पहले से भना बाई को मारने की तैयारी में अपने साथ लोहे का हथौड़ा लेकर गया था। विवाद बढ़ने पर सोनू ने भाना के सिर पर हथौड़े से कई बार वार किए, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद उसने अपने साथी जशवंत की मदद से उसके शव को प्लास्टिक बोरी में भरकर रात में शिव पारा स्टेशन मरोदा मंगल भवन के पास स्थित सार्वजनिक शौचालय के पीछे सैप्टिक टैंक के अंदर डालकर ढक्कन बंद कर दिया। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त लोहे के हथौड़े को जप्त किया गया है। आरोपियों से पूछताछ जारी है।