भिलाई बनेगा सबसे स्वच्छ शहर:निगम कमिश्नर रोहित व्यास बोले- इंदौर की तर्ज पर होगा काम, लोगों को भी करेंगे जागरूक

भिलाई4 महीने पहले
रोहित व्यास, कमिश्नर, नगर पालिक निगम भिलाई

छत्तीसगढ़ के भिलाई नगर निगम के नए कमिश्नर के रूप में 2017 बैच के IAS रोहित व्यास ने पदभार संभाल लिया है। भिलाई शहर को लेकर क्या चुनौतियां होंगी और उसके लिए उनका क्या प्लान होगा इसे लेकर उन्होंने भास्कर से विशेष चर्चा की। रोहित व्यास ने कहा कि वो इंदौर शहर से हैं। वहां स्वच्छता को लेकर बेहतर कार्य हुआ है। वो भी इंदौर की तर्ज पर स्वस्छता के मामले में भिलाई को नंबर 1 सिटी बनाएंगे।

नए निगम कमिश्नर व्यास ने कहा कि नगरीय निकाय का सबसे महत्वपूर्ण कार्य यह होता है कि वहां के लोगों का रहन सहन बेहतर हो इसको लेकर कार्य करना। इसमें शुद्ध पेयजल से लेकर सड़क, पानी, नाली और साफ सफाई जैसी चीजें आती हैं। इनको लेकर उनको कार्य करना होगा और यही उनके लिए चैलेंज भी होगा।

निगम कमिश्नर के मुताबिक वो हर दिन सुबह अपने अधिकारियों के साथ निगम क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं। वहां की साफ सफाई, सड़कों की हालत, पानी सप्लाई, नाली सफाई, कचरा उठाओ जैसी व्यवस्था को देख रहे हैं। मॉनिटरिंग के बाद वह जनता को इसके लिए जागरूक करेंगे और उनके सहयोग से भिलाई को छत्तीसगढ़ का सबसे स्वच्छ शहर बनाने के लिए काम करेंगे।

सुपेला से गदा चौक तक नहीं होने दिया जाएगा अतिक्रमण
कमिश्नर ने कहा कि सुपेला से गदा चौक तक का रास्ता अतिक्रमण से भरा पड़ा है। पूर्व कमिश्नर ने इसके लिए बेहतर काम किया है। वहां अतिक्रमण को हटाकर उस जगह को चौड़ा किया। लेकिन फिर से वहां अतिक्रमण हो रहा है। उस जगह की मॉनिटरिंग कर अतिक्रमणकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। साथ ही कुछ ऐसा प्लान किया जाएगा वहां फिर से अतिक्रमण न होने पाए।

17 करोड़ से लेकर 37 करोड़ पहुंचा सफाई का टेंडर, स्थिति जस की तस
भिलाई नगर निगम क्षेत्र में सफाई करने का टेंडर पहले 17 करोड़ रुपए का होता था। वर्तमान में यह बढ़कर 37 करोड़ रुपए तक पहुंच गया है। इसके बाद भी सफाई की स्थिति बदहाल है। सड़कों और नालियों की साफ सफाई नहीं हो रही है। सही तरीके से कचरा का उठाव नहीं हो रहा है। कमिश्नर ने कहा कि इन सब बातों की जानकारी उन्हें मिली है। इसको वो प्रमुखता से देखेंगे। इसके लिए वो मॉर्निंग विजिट करके सफाई की व्यवस्था को देख रहे हैं।

सड़कों में नहीं दिखेंगे आवारा मवेशी
निगम कमिश्नर रोहित व्यास ने कहा कि नरवा, गरुवा, घुरवा अऊ बाड़ी ये छत्तीसगढ़ शासन की महती योजना है। इसको लेकर भिलाई निगम ने बेहतर काम किया है। सड़कों में आवारा मवेशियों के बैठने की शिकायत सामने आई है। इसको लेकर समीक्षा बैठक भी की गई है। अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि आवारा मवेशियों को गौठान में रखा जाए। उनके मुताबिक जल्द ही शहर में इंप्लीमेंट भी दिखाई देगा।